DA Image
27 मई, 2020|5:42|IST

अगली स्टोरी

प्रेस कांफ्रेंस पर रोक लगाकर पलटी यूपी सरकार

उत्तर प्रदेश दौरे पर निकले राहुल गांधी की लखनऊ में प्रस्तावित प्रेस कांफ्रेंस को लेकर सोमवार को अच्छे खासे विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई। संभवत: राजनीति में राहुल के बढ़ते कद से आशंकित यूपी सरकार ने पहले तो लखनऊ के पर्यटन भवन में प्रेस कांफ्रेंस के लिए सभागार की बुकिंग को रद्द कर दिया। पर बाद में आनन-फानन में सफाई दे डाली कि बुकिंग रद्द नहीं की गई थी।

राहुल गांधी को मंगलवार को यहां प्रेस से मिलना है। राज्य के अपर मंत्रिमंडलीय सचिव विजय शंकर पांडेय ने जल्दबाजी में बुलाई गई प्रेस कांप्रेंस में कहा कि राज्य सरकार ने पर्यटन भवन के हाल को देने से कभी मना नहीं किया। यह सब सरकार की छवि धूमिल करने का प्रयास है।

उन्होंने सुश्री मायावती का वक्तव्य पढ़ने के अलावा किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया। सोमवार सुबह उस समय इस मामले में विवाद खड़ा हो गया था जब पर्यटन विभाग ने कहा था कि किसी सरकारी भवन में राजनीतिक कार्यक्रम की इजाजत नहीं दी जा सकती।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह का कहना था कि इस स्थल की अनुमति जिला प्रशासन ने दी थी और इसके लिए कांग्रेस ने उसका शुल्क भी जमा कर दिया था लेकिन सोमवार को प्रशासन ने उसे रद्द कर दिया। इससे पहले, भी इस साल की शुरुआत में कानपुर के चन्द्रशेखर कृषि विश्वविद्यालय में राहुल गांधी को छात्रों से बात करने की अनुमति नहीं दी गई थी।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:प्रेस कांफ्रेंस पर रोक लगाकर पलटी यूपी सरकार