अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धौला कुआं गैंगरेप मामले में फैसला टला

धौला कुआं सामूहिक बलात्कार के मामले में एक अदालत ने अपने फैसले को कल तक के लिए टाल दिया। चार साल पहले के इस मामले में दिल्ली विश्वविद्यालय की एक 20 वर्षीय छात्र का कथित तौर पर अपहरण कर चलती हुई कार में उसका बलात्कार किया गया था।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश नीरज कुमार गुप्ता ने कहा कि मामले में वह कल फैसला सुनाएंगे, जिसमें एक ही आरोपी को गिरफ्तार किया जा सका है। इससे पहले 30 नवंबर को भी अदालत ने फैसला नहीं सुनाया था।


अभियोजन पक्ष ने अपनी दलील में कहा कि मिजोरम की रहने वाली छात्र का आठ मई 2005 को देर रात करीब सवा दो बजे अपहरण कर लिया गया, जबकि वह एक दोस्त के साथ कुछ खाना लेकर पैदल घर वापस जा रही थी। चार आरोपियों ने दक्षिण दिल्ली के धौला कुआं के पास एक चलती कार में उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। बाद में छात्र को इलाके के गुरूद्वारे के पास छोड़ दिया गया। पुलिस हालांकि एक ही आरोपी अजित सिंह कटियार को पकड़ सकी। अन्य तीन आरोपी दांडा, जाट और टप्पे गिरफ्तारी से बच गये और उन्हें भगोड़ा अपराधी घोषित किया गया। अभियोजन ने 31 गवाहों से पूछताछ की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धौला कुआं गैंगरेप मामले में फैसला टला