class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोदी को फिर मात, जोशी को जीत

मोदी को फिर मात, जोशी को जीत

राजस्थान क्रिकेट संघ की सत्ता हासिल करने की ललित मोदी की छह महीने के भीतर दूसरी कोशिश नाकाम रही और बीसीसीआई के इस कद्दावर प्रशासक को सोमवार को अध्यक्ष पद के चुनाव में केंद्रीय मंत्री सीपी जोशी ने हरा दिया।

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री जोशी ने सोमवार को मोदी को बहुप्रतीक्षित चुनावों में 19-13 से हराया। चुनाव के दौरान दोनों धड़ों के बीच झड़प भी देखी गई। बीसीसीआई उपाध्यक्ष और इंडियन प्रीमियर लीग के अध्यक्ष मोदी की यह दूसरी हार है। आरसीए अध्यक्ष के रूप में मोदी का कार्यकाल इस साल की शुरुआत में खत्म हो गया था।

आरसीए के चुनाव साल भर के भीतर दूसरी बार हुए हैं क्योंकि एक मार्च को हुए चुनाव में मोदी को हराने वाले संजय दीक्षित अपने गुट को एकजुट नहीं रख सके और राज्य सरकार ने एक तदर्थ समिति का गठन किया। उच्चतम न्यायालय ने चुनाव कराने के निर्देश दिए थे जिसके लिए न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) एनएम कासलीवाल को पर्यवेक्षक बनाया गया था। दीक्षित सचिव के रूप में आरसीए में लौटे हैं जिन्होंने राजेंद्र सिंह राठौड़ को 19-14 से हराया।

इससे पहले मोदी और जोशी धड़ों के बीच सवाई मानसिंह स्टेडियम के भीतर स्थित आरसीए कार्यालय के बाहर हाथापाई हो गई थी। इससे पहले आज जैसे ही चुनाव शुरू हुए माहौल गर्म हो गया और स्थिति ने उस समय उग्र रूप ले लिया जब मोदी और जोशी के समर्थक संघ के कार्यालय के सामने ही एक दूसरे से भिड़ गए।

बहुप्रतीक्षित चुनाव के लिए मतदान के बाद जैसे ही वोटों की गिनती शुरू हुई, दोनों गुटों के समर्थकों के बीच झगड़ा शुरू हो गया और बाद में पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के उपाध्यक्ष और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के अध्यक्ष ललित मोदी ने आरोप लगाया कि उनके समर्थकों को धमकाया गया और वोट डालने से रोका गया।

मोदी ने कहा कि मेरे कुछ समर्थकों को पीटा गया है। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। यहां पर गुंडा तत्व है, उन्हें यहां नहीं होना चाहिए। मोदी के करीबी माने जाने वाले कोटा क्रिकेट संघ के सचिव अमिन पठान, जोधपुर क्रिकेट संघ के सचिव अजंनी माथुर और रमेश गुप्ता की पिटाई की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोदी को फिर मात, जोशी को जीत