class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धोखाधडी के आरोप में पांच के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज

थाना इंदिरापुरम में एक व्यक्ति ने कंस्ट्रेक्शन कंपनी के दो कर्मचारियों सहित पांच लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। आरोप है कि कंपनी ने वादी से पूरा पैसा लेने के बाद उसके द्वारा बुक कराया फ्लैट रद्द कर दिया व ऐसा फ्लैट देने का दबाव बनाया जो जीडीए से स्वीकृत नहीं है।


थाने से प्राप्त जानकारी के अनुसार पिलखुवा की साकेत कालोनी में रहने वाले नवीन कौशिक ने चार मार्च 2006 को इस्टर्न हाइट आवासीय योजना के तहत फ्लैट बुक कराया। जिसका साढ़े चार लाख रुपये दे दिया। 13 नवंबर 2006 को कपनी ने उन्हे सी-315 नंबर का फ्लैट आवंटन कर दिया व बाकी रकम जमा करने को कहा। इस पर इन्होंने नवीन से सरकारी बैंक से लोन कराने को कहा व लोन पास कर दिया। जिसका पैसा कंपनी के खाते में चला गया। पैसा जमा होने के बाद जब नवीन फ्लैट पर कब्जा लेने पहुंचा तो उसका पहले आवंटन किया गया फ्लैट रद्द कर दिया गया व उसे नया फ्लैट सी-303 देने की बात कही गई। यह फ्लैट अभी निर्माणधीन था। जब नवीन ने इसके बारे पता किया तो पता चला कि यह फ्लैट जीडीए से स्वीकृत नहीं है। इस मामलों को लेकर नवीन कौशिक ने थाना इंदिरापुरम में हरप्रीत, प्रभजीत, निखिल जैन, रमेश मलहोत्र व मुकेश बंसल के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज होने के बाद जांच शुरू कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धोखाधडी के आरोप में पांच के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज