DA Image
4 जून, 2020|1:55|IST

अगली स्टोरी

मुख्तार के गुर्गो को जमीन न देने पर हुआ गणेश पर हमला

विधायक मुख्तार अंसारी के चार शूटरों को मुफ्त में जमीन न देने पर महेन्द्र जायसवाल ने चर्चित प्रापर्टी डीलर गणेश दत्त मिश्र पर पिस्टल से गोली दागी थी। यह तो संयोग ही था कि, गोली निशाने से चूक गयी और प्रापर्टी डीलर बाल-बाल बच गया। महेन्द्र ने प्रापर्टी डीलर को कुछ दिन पूर्व धमकी दी थी कि, यदि उसने शूटरों को वाराणसी या गाजीपुर में एक-एक बिस्वा जमीन मुफ्त में नहीं दी, तो वह उसे गोली मार देगा।


इस आशय का मुकदमा प्रापर्टी डीलर गणेश दत्त मिश्र ने शहर कोतवाली में दर्ज कराया है। मुकदमे के मुताबिक, गणेश दत्त ने पुलिस को बताया कि, कुछ दिन पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी के गुर्गे महेन्द्र जायसवाल ने उसे धमकी दी थी कि, यदि मुख्तार गैंग के शूटरों अनुज कन्नौजिया, राजू कन्नौजिया, राकेश पाण्डेय और प्रदीप राम को उसने एक-एक बिस्वा जमीन गाजीपुर या वाराणसी में मुफ्त में रजिस्ट्री नहीं की, तो वह उन्हें मार डालेगा। इस धमकी से श्री मिश्र काफी सहमे हुए थे। इस बीच बुधवार को शहर में एक तिलकोत्सव समारोह में पहुंचे श्री मिश्र का सामना मुख्तार के गुर्गे महेन्द्र जायसवाल से हो गया। समारोह में ही महेन्द्र शूटरों को जमीन न देने के मामले को लेकर श्री मिश्र से उलझ गया। थोड़ी ही देर में दोनों के बीच हुई तीखी नोकझोंक से मामला आगे बढ़ गया और महेन्द्र ने पिस्टल निकालकर  मिश्र पर फायर झाक दिया। यह तो संयोग था कि, उस समय महेन्द्र नशे में था और उसका निशाना चूक गया। यह देखकर  मिश्र ने भी अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर निकाल ली, जिस पर समारोह में अफरा-तफरी मच गयी। काफी लोग मौके पर आ गये और बीच-बचाव कर मामलो को शांत कराया। जाते-जाते महेन्द्र जायसवाल ने एक बार फिर धमकी दी कि यदि उसने जमीन नहीं दी, तो वह उनकी हत्या कर देगा।


इस घटना को लेकर शहर में तरह-तरह की चर्चाएं हैं। कहा जा रहा है कि, बिना अपने आका के इशारे के महेन्द्र इतना बड़ा दुस्साहस नहीं कर सकता। दूसरी तरफ यह भी चर्चा है कि, गणेश दत्त भी पूर्व में मुख्तार के काफी करीबी थे। ऐसे में उनके ऊपर हुए हमले से यह कहा जा रहा है कि, मुख्तार गैंग के गुर्गे उनके मददगारों पर भी गोलियां चला सकते हैं। इसे लेकर मुख्तार के करीबी मददगार भी सहमे हुए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:मुख्तार के गुर्गो को जमीन न देने पर हुआ हमला