DA Image
29 मई, 2020|10:28|IST

अगली स्टोरी

ढांचा ध्वस्त करके मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया गया

श्रीराम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य एवं पूर्व सांसद डा रामबिलास दास वेदांती ने कहा कि अयोध्या में विवादित श्रीराम जन्मभूमि का ढांचा ध्वस्त करके मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया गया है और वह इसके लिए फांसी की सजा के लिए भी तैयार हैं।
 
वेदांती ने पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस ने लिब्रहान आयोग की रिपोर्ट लीक की और अब वह विवादित जगह पर मस्जिद का निर्माण कराना चाहती है। उन्होंने कहा कि आयोग को जांच में 17 साल लगे और इस पर आठ करोड़ रुपया खर्च हुआ। विवादित ढांचा हमने गिराया था परन्तु आयोग ने मुझसे कोई पूंछताछ नही की।
 
लिब्रहान आयोग की रिपोर्ट झूठ के सिवा कुछ नही है। सपा मुखिया धर्म के नाम पर राजनीति नही करें।  हरिद्वार में होने जा रहे कुम्भ मेले के दौरान वहां संतों धर्माचार्यों की बैठक होगी जिसमें मंदिर निर्माण का दिन निश्चित किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ढांचा ध्वस्त करके मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया गया