DA Image
29 सितम्बर, 2020|6:54|IST

अगली स्टोरी

बढ़ती कीमतों को रोकने में केद्र सरकार विफल: जेटली

भारतीय जनता पार्टी के महासचिव और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष अरुण जेटली ने शनिवार को कहा कि केन्द्र सरकार खाद्य पदार्थ की कीमतों को नियंत्रित करने में पूरी तरह विफल रही है और इसका सबसे ज्यादा प्रभाव महिलाओं पर पड़ रहा है।

 जेटली ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि खाद्य पदार्थों की कीमतों में 18 प्रतिशत बढोतरी की बात सरकार ने स्वीकार की है और मंदी के इस दौर में मुद्रास्फीति बढ़ना खासकर खाद्य पदार्थों की कीमतों का बढ़ना सरकार का गरीबों के साथ युद्ध है। उन्होंने कहा कि झारखंड पहला राज्य है जहां पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोडा और पूर्व राज्यपाल सैयद सिबे रजी का कार्यालय भ्रष्टाचार का केन्द्र बना। उन्होंने कहा कि झारखंड विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन बहुमत की ओर बढ़ रही है और जनता इस बात को अच्छी तरह समझ रही है कि यह गठबंधन ही बेहतर और स्थिर सरकार दे सकता है। 


 जेटली ने कहा कि मधु कोडा की सरकार संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन संप्रग की सरकार थी।और इसे कांग्रेस ने प्रोत्साहन दिया तथा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस सरकार को अशीर्वाद प्रदान किया। उन्होंने कहा कि श्री कोडा की प्रतिबद्धता श्रीमती गांधी, श्री सिंह लालू प्रसाद यादव और शिबू सोरेन के अलावा भ्रष्टाचार में भी रही। उन्होंने कहा कि झारखंड में लोग सभ्य और स्थिर शासन चाहते हैं और इसे भाजपा ही दे सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:बढ़ती कीमतों को रोकने में केद्र सरकार विफल: जेटली