class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संगठन में दोफाड़ नहीं, वार्ता में संप्रभुता भी हो मसला

संगठन में दोफाड़ नहीं, वार्ता में संप्रभुता भी हो मसला

उल्फा के स्वयंभू कमांडर-इन-चीफ परेश बरुआ ने संगठन में दोफाड़ होने की बात से इनकार करते हुए कहा कि उल्फा कैडर किसी भी वार्ता के दौरान असम की संप्रभुता पर बात करना चाहते हैं।

अब तक वार्ता विरोधी माने जाने वाले बरुआ ने कहा हम ऐसी वार्ता के लिए तैयार हैं, जिसमें असम की संप्रभुता पर चर्चा हो। नॉर्थ ईस्ट टेलीविजन को भेजे अपने ई-मेल में बरुआ ने कहा कि इस बात को लेकर उल्फा कैडर के दिमाग में किसी तरह का भ्रम नहीं है।

बरुआ ने कहा हमारे संगठन में कोई दोफाड़ नहीं है। हमें अध्यक्ष अरविंद राजखोवा पर पूरा विश्वास है। उन्होंने कहा मतभेद का कोई सवाल ही नहीं है और अब यह भारत सरकार पर निर्भर है कि वह इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में गंभीरता दिखाए।

उल्फा नेता ने कहा कि राजखोवा और उल्फा नेता राजू बरुआ ने आत्मसमर्पण नहीं किया है और दोनों को सरकार द्वारा रचे गए एक षडयंत्र के तहत गिरफ्तार किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:संगठन में दोफाड़ नहीं, वार्ता में संप्रभुता भी हो मसला