अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैसे गांव-गांव तक पहुंचेगी पाइपलाइन से गैस

सरकार गांव-गांव, शहर-शहर में पाइपलाइन से गैस की आपूर्ति करना चाहती है, जिससे कि लोगों को खाना पकाने, वाहन चलाने आदि के लिए आसानी से गैस उपलब्ध हो सके। इसके लिए इंडियन ऑयल और उसकी कई एजेंसी देश भर में काम कर रही हैं।

वेस्ट यूपी में एक महत्वपूर्ण परियोजना के तहत किसानों के कारण पाइपलाइन बिछाने में इंडियन ऑयल कारपोरेशन को परेशानी हो रही है। ऐसे में अन्य परियोजनाओं पर भी असर पड़ना स्वाभाविक है। योजना जनवरी 2010 तक पूरे किये जाने का लक्ष्य है।

इंडियन आयल 298 करोड़ की लागत से दादरी से पानीपत तक 132 किमी तक की रेंज में एलएनजी पाइपलाइन बिछाने का काम कर रही है। बागपत जिले में लगभग 42 किमी क्षेत्र आता है जिसमें 25 किमी क्षेत्र में पाइपलाइन बिछाने का काम पूरा हो गया है। 17 किमी क्षेत्र से संबंधित तीन गांवों में पाइपलाइन बिछाने में कम्पनी को परेशानी हो रही है।

वहीं गाजियाबाद जिले में इस परियोजना में पाइपलाइन बिछाने का काम समाप्त होने को है। बागपत जिले में परेशानी यह है कि किसानों ने पहले तो 440 रुपये प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से जमीन पाइपलाइन बिछाने के लिए कम्पनी से समझौता कर लिया।

जब अधिग्रहण की बात आई तो किसान अड़ंगा लगाने लगे। इस मामले की शिकायत इंडियन ऑयल के जीएम दिनकर पंडित ने जब कमिश्नर से की तो तब कहीं जाकर प्रशासन की नींद खुली। अब कमिश्नर ने मेरठ सहित मंडल के सभी जिलों में कम्पनी के पाइपलाइन प्रोजेक्ट में आने वाली समस्याओं को दूर करने का आदेश जारी किया है। उल्लेखनीय है कि मेरठ में गेल के माध्यम से पाइपलाइन बिछाने का काम प्रगति पर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैसे गांव-गांव तक पहुंचेगी पाइपलाइन से गैस
दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
भारत188/4(20.0)
vs
दक्षिण अफ्रीका189/4(18.4)
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकटों से हराया
Wed, 21 Feb 2018 09:30 PM IST
दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
भारत188/4(20.0)
vs
दक्षिण अफ्रीका189/4(18.4)
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकटों से हराया
Wed, 21 Feb 2018 09:30 PM IST
तीसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
दक्षिण अफ्रीका
vs
भारत
न्यूलैन्ड्स, केपटाउन
Sat, 24 Feb 2018 09:30 PM IST