class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका या ब्रिटेन की कठपुतली नहीं है पाक: गिलानी

अमेरिका या ब्रिटेन की कठपुतली नहीं है पाक: गिलानी

पाकिस्तान के अशांत कबाइली क्षेत्रों में अलकायदा के शीर्ष नेताओं की मौजूदगी को लेकर ब्रिटेन के साथ वाकयुद्ध के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने कहा है कि उनका देश अमेरिका या ब्रिटेन के हाथ की कठपुतली नहीं, बल्कि आतंकवाद के खिलाफ जंग में एक समान सहयोगी है।
   
गिलानी ने द टाइम्स से कहा कि यह हमारी जंग है जिसे हम लड़ रहे हैं। यह अमेरिका के लिये छदम युद्ध नहीं है। पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में समान सहयोगियों में से एक है। वह अमेरिका या ब्रिटेन के हाथ की कठपुतली नहीं है।
   
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री गार्डन ब्राउन के इस आरोप का खंडन करते हुए कहा कि ओसामा बिन लादेन संभवत: पाकिस्तान के कबाइली क्षेत्रों में मौजूद है और सरकार को उसे पकड़ने के लिये अधिक प्रयास करने चाहिये, गिलानी ने कहा, निश्चित तौर पर वह वहां नहीं है।
   
गिलानी ने यह साफ कर दिया कि अलकायदा नेता मार्च 2008 से शुरू हुए उनके कार्यकाल से लेकर अब तक के समय के बीच पाकिस्तान में नहीं है। न ही उनके पास इस तरह की कोई खुफिया जानकारी है कि बिन लादेन पाकिस्तानी जमीन पर 11 सितंबर 2001 के हमलों के बाद कभी मौजूद था। उन्होंने कहा कि अगर अमेरिका पाकिस्तान को इस बात के लिये राजी करना चाहता है तो उसे यह सबूत पेश करने चाहिये कि लादेन वहां था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिका या ब्रिटेन की कठपुतली नहीं है पाक: गिलानी