class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खाद्यान्न घोटाला : डीडीओ को सीबीआई ने भेजा खत

जिले में हुए करोड़ों रुपये के खाद्यान्न घोटाले के आरोप में गिरफ्तार जिला ग्रामीण विकास अभिकरण (डीआरडीए) के कनिष्ठ लिपिक के विरुद्ध कार्रवाई की सिफारिश करते हुए सीबीआई ने डीआरडीए के वित्त व लेखाधिकारी के खिलाफ भी कार्रवाई के लिए शासन को पत्र लिखा है।

खाद्यान्न घोटाले के मामले में सीबीआई ने चार दिन पहले डीआरडीए के वित्त व लेखाधिकारी सतेन्द्र कुमार गंगवार व कनिष्ठ लिपिक अशोक उपाध्याय को लखनऊ में गिरफ्तार किया था। उसके बाद जांच ब्यूरो के अफसरों ने जिला विकास अधिकारी को पत्र भेजकर कनिष्ठ लिपिक को गिरफ्तार करने की जानकारी देते हुए उसके विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई करने की सिफारिश की।

साथ ही सीबीआई ने इस मामले में गिरफ्तार वित्त व लेखाधिकारी के विरुद्ध भी कार्रवाई के लिए शासन को पत्र भेजा है। उल्लेखनीय है कि 2003-05 के दौरान एसजीआरवाई के तहत बड़े पैमाने पर किये गये खाद्यान्न घोटाले की जांच सीबीसीआईडी, ईओडब्लू और एसआईटी के बाद सीबीआई ने की।

घोटाले के आरोप में ब्यूरो ने नौ लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गये लोगों में डीआरडीए के तत्कालीन वित्त व लेखाधिकारी सतेन्द्र कुमार गंगवार, कनिष्ठ लिपिक अशोक उपाध्याय, जिला पंचायत सदस्य मुन्ना मौर्य व तेगा सिंह, पूर्व जिला पंचायत सदस्य अच्छेलाल यादव, दलाल रामायण यादव, बरमेश्वर पाठक, नजीरुद्दीन अंसारी और हीरानंद वर्मा शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खाद्यान्न घोटाला : डीडीओ को सीबीआई ने भेजा खत