DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओबामा के भारतवंशी सलाहकार ने जीता लुइसविल ग्रावेमेयर अवार्ड

बराक ओबामा की विश्वास परामर्श परिषद के सदस्य और युवाओं के एक संगठन के संस्थापक भारतवंशी इबू पटेल को 2010 का लुइसविल ग्रावेमेयर अवार्ड इन रिलीजन से नवाजा गया है, जिसे धर्म के क्षेत्र में दुनिया का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार माना जाता है।

शहर स्थित इंटरफेथ यूथ कोर के संस्थापक और कार्यकारी निदेशक पटेल ने 2007 में लिखी अपनी आत्मकथा के लिए दो लाख अमेरिकी डॉलर का पुरस्कार जीता है। इसका शीर्षक है, एक्टस ऑफ फेथ, द स्टोरी ऑफ एन अमेरिकन मुस्लिम, द स्ट्रगल फॉर द सोल ऑफ ए जेनरेशन।

32 वर्षीय पटेल ने कहा कि दुनिया में शांति और सुरक्षा पाने के लिहाज से युवा लोगों को यह सिखाना कि धार्मिक विविधता की सराहना किस तरह की जाए, यह महत्वपूर्ण है। पटेल को दुनिया भर से आए 67 नामांकनों में से विजेता घोषित किया गया है। पटेल ने 1998 में यह संगठन बनाया था, जो अलग अलग धर्मों के युवाओं को सामुदायिक सेवाओं और उनके साक्षा मूल्यों पर काम करने के लिए जोड़ता है।

धर्म विषय के प्रोफेसर सुसान गैरेट ने कहा कि जिस समय पूरी दुनिया में धार्मिक कटटरपंथी अपने फायदों के लिए किशोरों का इस्तेमाल कर रहे हैं, उस समय पटेल हमसे अनुरोध करते हैं कि किसी युवा के जीवन के समय में के छोटे हिस्से का लाभ उठाया जाए और उन्हें सहयोग, दया के मूल्यों को सिखाया जाए।

पटेल ने अपनी पुस्तक में अमेरिका में पैदा हुए एक भारतवंशी मुस्लिम के तौर पर अपनी कहानी लिखी है। इसमें लिखा है कि एक उग्र युवा किस तरह शांतिप्रिय व्यक्ति बन गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ओबामा के भारतवंशी सलाहकार ने जीता लुइसविल ग्रावेमेयर अवार्ड