class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिखर पर पहुंचाती है जिज्ञासा

मुख्यमंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि जिज्ञासा मनुष्य को शिखर पर पहुंचाती है। मानव को अपने जीवन में लक्ष्य निर्धारण करके ही कार्य करने चाहिए। निशंक कालेज आफ इंजीनियरिंग रुड़की के  11वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग कालेज से निकले छात्र समाज को जोड़ने का कार्य करेंगे। उन्होंने छात्रों को मर्यादा पुरुषोत्तम राम के आचरण को जीवन में उतारने की शिक्षा दी। कालेज से निकले छात्र केवल डिग्री लेकर न जायें बलकि पूरी दुनिया को मार्ग दर्शन देने का कार्य करें। नगर विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि इंजीनियरिंग कालेज से निकले हुए छात्र देश का नाम रोशन करेंगे।

प्रदेश के संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि भारतभूमि का भविष्य और वर्तमान नौजवानों के ऊपर टिका हुआ है। आम आदमी के सपनों का उत्तराखंड बनाने के लिए युवाओं की भागीदारी अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग कालेज के छात्र-छात्रएं प्रदेश के हर व्यक्ति के चेहरे पर मुस्कान लाने का कार्य करेंगे।

कोर के चेयरमैन जेसी जैन ने स्वागत भाषण करते हुए अतिथियों का स्वागत किया। कालेज की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की। इसके पूर्व मुख्यमंत्री निशंक ने इंजीनियरिंग कालेज के नवनिर्मित सिविल इंजीनियरिंग भवन का
लोकार्पण किया।
दीप प्रज्जवलन के पश्चात कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। संचालन प्रो.सुचिता शर्मा ने किया। इस अवसर पर प्रदेश के प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा राकेश शर्मा, विधायक सुरेश जैन, हरीदास, मो.शहजाद, वाइस चेयर पर्सन श्रीमती सुनीता जैन, महानिदेशक प्रो.गोपाल रंजन, रजिस्ट्रार जीएस बिष्ट, श्रेयांश रंजन उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिखर पर पहुंचाती है जिज्ञासा