अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दबंगों ने दलित युवक को गोली मारी

बारात में शहनाई की गूंज किसी गरीब के लिए मातम बन गई। सवर्णों की बारात में एक दलित युवक को सिर्फ इसलिए गोली मार दी गई, कि वह उनकी महफिल में कुर्सी पर बैठा हुआ था। 25 वर्षीय मनोज कुमार माझी को ऑर्केस्ट्रा की महफिल में अपनी हिमाकत की भरपाई जान गंवाकर चुकानी करनी पड़ी।

इसुआपुर थाना क्षेत्र के निपनियां गांव निवासी विश्वकर्मा माझी का पुत्र मनोज पड़ोस के सलेमपुर गांव में बुधवार की रात करीब डेढ़ बजे एक उच्च वर्ग की बारात में कुर्सी पर बैठकर ऑर्केस्ट्रा देख रहा था। इसी दौरान बाराती पक्ष वाले किसी व्यक्ति ने उससे पूछा कि तुम्हारा पूरा नाम क्या है? पूरा नाम जानने के बाद उक्त व्यक्ति को एक दलित युवक का सवर्णों के बीच कुर्सी पर बैठना काफी नागवार गुजरा और उसने मनोज गोली मार दी। गोली गले में लगने के कारण उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

इस घटना के बाद से बारात में भगदड़ मच गई। दुल्हे को विवाह मंडप पर छोड़कर सारे बाराती भाग गए। घटना के बाद से गांव के आक्रोशित ग्रामीणों ने भाग रहे ट्रैक्टर और एक मोटरसाइकिल को आग लगा दी। हालांकि इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। मृतक के भाई अशोक कुमार माझी ने लड़के के पिता हरेन्द्र शर्मा समेत एक अज्ञात को अभियुक्त बनाकर एफआईआर कराई है। गोली मारने वाले का पता नहीं चल पाया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दबंगों ने दलित युवक को गोली मारी