DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या के पर्यटन अफसर को कारण बताओ नोटिस

अब पर्यटन महानिदेशालय से मंजूरी मिलने के बाद ही क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी स्थानीय स्तर पर किसी तरह की प्रचार सामग्री छपवा सकेंगे। यह फैसला पर्यटन महानिदेशक अवनीश अवस्थी ने रामायण मेले के लिए छपवाई गई अयोध्या-फैजाबाद सिटी गाइड पर उठी आपत्तियों को देखते हुए लिया है।

‘हिन्दुस्तान’ ने बुधवार के अंक में प्रमुखता से छापा था कि पर्यटन विभाग की सिटी गाइड में छपे मानचित्र में विवादित स्थल को राम जन्मभूमि बताया गया है। पर्यटन महानिदेशक ने कहा कि इस बारे में फैजाबाद के क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी आरके यादव से पूछताछ की जा रही है।

प्रकरण में जिसकी भी लापरवाही सामने आएगी, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल फैजाबाद के क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी श्री यादव ने मामले में कुछ भी कहने से इनकार किया है। सिटी गाइड छपवाने के लिए पर्यटन महानिदेशलाय की ओर से फैजाबाद के क्षेत्रीय पर्यटन कार्यालय को एक लाख रुपए का अतिरिक्त फण्ड स्वीकृत किया गया था।

श्री अवस्थी ने बताया कि महानिदेशालय क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारियों को प्रचार सामग्री छपवाने के लिए फण्ड देता है। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारियों को यह खासतौर पर ध्यान रखना होता है कि प्रचार सामग्री में कोई आपत्तिजनक बात न आए। श्री अवस्थी ने कहा है कि आगे से यह ध्यान रखा जाएगा कि प्रचार सामग्री छपवाने से पहले उसकी समुचित जाँच हर हाल में कर ली जाए और प्रेस में देने से पहले इस सामग्री पर महानिदेशालय से भी स्वीकृति ले ली जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अयोध्या के पर्यटन अफसर को कारण बताओ नोटिस