class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चाचा-भतीजे की बम व गोलियों से हत्या

जहानागंज थाना क्षेत्र के जहानागंज कस्बे में गुरुवार की सुबह पुरानी रंजिश में पट्टीदारों ने चाचा-भतीजे की बम व गोलियों से हमलाकर हत्या कर दी। हमलावर पक्ष का भी एक व्यक्ति घायल हुआ है। दोहरी हत्या से आक्रोशित भीड़ ने हमलावरों के घर धावा बोला और तोड़फोड़ की। डीआईजी व एसपी ने कस्बे का दौरा किया जबकि एएसपी के नेतृत्व में कई थानों की फोर्स वहां डेरा डाले हुए है। पुलिस ने एक आरोपित को दो जिंदा बमों के साथ गिरफ्तार किया है।

जहानागंज कस्बे की मुस्लिम बस्ती के दो पट्टीदारों मो. जब्बार व मोबीन के बीच 2005 से भूमि विवाद चल रहा है। इस रंजिश में कई बार खूनी संघर्ष भी हुआ जिसमें अब तक जब्बार समेत पांच लोग मारे जा चुके हैं। सुबह करीब साढ़े सात बजे जब्बार के पक्ष के आठ-दस लोग मोबिन के घर पर चढ़ आये और बम व गोलियों से हमला कर दिया।

जान बचाने के लिए कमालुद्दीन (45) पड़ोसी जुम्मन के घर में घुसे तो हमलावरों ने अंदर जाकर उन्हें गोलियों से छलनी कर दिया। मौके पर ही उनकी मौत हो गयी। इसके बाद हमलावरों ने कमालुद्दीन के चाचा मोबीन (70) पर फायर झोंक दिया। वह भागकर प्रधान गुलाम साबिर के घर में घुसे तो हमलावरों ने दौड़ाकर उन्हें गोलियों से भून दिया तथा उनके चेहरे पर चाकू से भी प्रहार किया।

इस दौरान लगातार फायरिंग व बमबाजी होती रही जिससे दहशत फैल गयी और लोग घरों में दुबक गये। इसबीच हमलावरों का साथी इकबाल (35) भी घायल हो गया जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इकबाल ने बताया कि वह सुबह सब्जी लेने जा रहा था कि विरोधी पक्ष के लोगों ने उसे रोका और गोलियों व बम से हमला कर दिया। किसी तरह वह घर पहुंचा और परिवार वालों को जानकारी दी।

इसी के बाद हुई फायरिंग में दो लोग मारे गये। दोहरी हत्या से आक्रोशित भीड़ ने जब्बार के घर पर पथराव करने के साथ घर में घुसकर तोड़फोड़ की और छत की रेलिंग तोड़ दी। थोड़ी ही देर में डीआईजी केके त्रिपाठी, एसपी रमित शर्मा, एएसपी नगर ओपी श्रीवास्तव के साथ दस थानों की फोर्स कस्बे में पहुंच गयी। दोनों पट्टीदारों के घर पर कोई नहीं मिला। यहां तक कि महिलाएं व बच्चों भी नहीं नजर आये।

मारे गये चाचा-भतीजे की ओर से जैनुल आबदीन की तहरीर पर जहानागंज पुलिस ने मुख्तार पुत्र जब्बार समेत सात लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की है।कस्बे में शांति के लिए पुलिस व पीएसी कैम्प कर रही है। जहानागंज के एसओ विजय शंकर यादव ने बताया कि हमलावर पक्ष के इकबाल अहमद पुत्र जब्बार को दो जिन्दा बमों के साथ गिरफ्तार किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चाचा-भतीजे की बम व गोलियों से हत्या