अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जलवायु परिवर्तन पर भारतीय रुख को चीन का समर्थन

जलवायु परिवर्तन पर भारतीय रुख को चीन का समर्थन

कोपेनहेगन सम्मेलन से पहले चीन ने गुरुवार को भारत के इस रुख का समर्थन किया कि विकासशील देशों के लिए उत्सजर्न में कटौती के लक्ष्य बाध्यकारी नहीं हैं और कहा कि वह जलवायु परिवर्तन के शिकार दोनों देशों के बीच सहयोग और समन्वय को विस्तार देने को तैयार है।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता शिन गैंग ने संवाददाताओं से कहा कि हम भारत के मौजूदा रुख को समझते हैं। हमें हमारी राष्ट्रीय स्थितियों और क्षमताओं के आधार पर अनुकूलन और कटौती करना होगी।

उन्होंने कहा कि चीन जलवायु परिवर्तन के मुददे पर भारत के साथ संपर्क, समन्वय और सहयोग मजबूत करने को तैयार हैं। गैंग ने कहा, चीन और भारत विकासशील देश हैं और जलवायु परिवर्तन के शिकार हैं। उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष उत्सजर्न में कटौती के बाध्यकारी लक्ष्य तय करने के लिए बाध्य नहीं हैं।

भारत ने उत्सजर्न में बाध्यकारी कटौती करने से इनकार कर कहा है कि ऐसा करने से उसकी आर्थिक प्रगति धीमी हो जायेगी। इसके बजाय उसने उत्सजर्न में कटौती के लिए स्वेच्छा से उठाए जाने वाले कदमों को तवज्जो दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जलवायु परिवर्तन पर भारतीय रुख को चीन का समर्थन