class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लश्कर आतंकी ने स्वीकारी बेंगलुरु धमाके में संलिप्तता

लश्कर आतंकी ने स्वीकारी बेंगलुरु धमाके में संलिप्तता

बांग्लादेश द्वारा भारत को सौंपे गए लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों ने पिछले साल बेंगलुरु में हुए सिलसिलेवार विस्फोटों में शामिल रहने की बात स्वीकारी है। पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी।

पूछताछ टीम में शामिल इस अधिकारी ने कहा कि नजीर तरियन डावडे (25) उर्फ टी नजीर ने मेघायल पुलिस और सीमा सुरक्षा बल को पूछताछ के दौरान बताया कि उसने अपने एक अन्य साथी रहीम के साथ बम वहां लगाया था।

बम विशेषज्ञ माना जाने वाला नजीर और लश्कर के एक अन्य आतंकी सिराज शम्शुद्दीन शम्स (33) को बांग्लादेश के बीडीआर ने बुधवार को सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों के हवाले किया था। ये दोनों आतंकी केरल के रहने वाले हैं।

सीमा सुरक्षा बल ने अपने बांग्लादेशी समकक्ष को उनके देश में आतंकवादियों की उपस्थिति की सूचना दी थी। नाम नहीं बताने की शर्त पर अधिकारी ने बताया कि दोनों ने हालांकि अभी तक वर्ष 2005 में भारतीय विज्ञान संस्थान पर हुए हमले में अपनी भूमिका नहीं स्वीकारी है। इन दोनों आतंकियों से गुरुवार को फिर पूछताछ की जाएगी।

नजीर और सिराज पिछले लगभग एक साल से बांग्लादेश में रह रहे थे। उनके बारे में समझा जाता है कि वह दक्षिण भारत में अपने अड्डों के बारे में बड़ा खुलासा कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लश्कर आतंकी ने स्वीकारी बेंगलुरु धमाके में संलिप्तता