अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जौनपुर में तीन महीने से नहीं मिड डे मील

विकासखंड जौनपुर के थत्यूड़ भवान राजकीय प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में मध्याह्न् भोजन योजना बंद होने की कगार पर है। सितंबर से स्कूलों में चावल की आपूर्ति न होने से मध्याह्न् भोजन योजना को चलाने में प्रधानाध्यापकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं कई स्कूलों के प्रधानाध्यापक अपने निजी स्नोतों से व्यवस्था कर मध्याह्न् भोजन बना रहे हैं। क्षेत्र में तीन माह से खाद्यान्न आपूर्ति बंद होने से क्षेत्र के लोगों में जिला प्रशासन शासन एवं विभाग के प्रति भारी आक्रोश व्याप्त है। 

सामाजिक कार्यकर्ता हीरामणि गौड़, सोमवारी लाल नौटियाल, रतनमणि भट्ट, सुभाष पंवार, पृथ्वी सिंह रावत आदि ने जिलाधिकारी एवं जिला पूर्ति अधिकारी से तत्काल क्षेत्र के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में चावल की आपूर्ति करने की मांग की है। ज्येष्ठ उप प्रमुख महिपाल सिंह रावत ने भी जिलाधिकारी को इस बाबत पत्र लिखा है।

उन्होंने चेतावनी दी है यदि एक सप्ताह के अंदर क्षेत्र में खाद्यान्न आपूर्ति नहीं की जाती है तो क्षेत्र के लोगों को जिला प्रशासन एवं विभाग के खिलाफ जन आंदोलन, धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। उल्लेखनीय है कि क्षेत्र में विगत एक माह से सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेताओं की हड़ताल से वे राशन नहीं उठा रहे हैं, जिससे क्षेत्र में खाद्यान्न आपूर्ति ठप पड़ी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जौनपुर में तीन महीने से नहीं मिड डे मील