class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आपस में भिड़े शिकायतकर्ता व क्रशर संचालक

नंदप्रयाग के झूलाबगड़ तोक में खनन और स्टोन क्रेशर की वैद्यता को लेकर उठा विवाद गहरा गया है। जिलाधिकारी द्वारा नियुक्त जांच टीम बुधवार को निरीक्षण करने पहुंची तो शिकायतकर्ता व स्टोन क्रेशर संचालक पक्ष के लोग आपस में भिड़ गए।

उल्लेखनीय है कि नंदप्रयाग के झूलाबगड़ तोक में खनन और स्टोर क्रेशर की वैद्यता व संचालन पर कुछ जन प्रतिनिधियों ने सवाल खड़े किये थे। इनका आरोप था कि स्टोन क्रेशर और खनन अवैध तरीके से हो रहा है। जिला अधिकारी अरुण कुमार ढौंडियाल के निर्देश पर उपजिलाधिकारी देवानंद शर्मा अपनी टीम के साथ बुधवार को मौका मुआयना करने पहुंचे।   

इसी बीच स्टोन क्रेशर और खनन पट्टा स्वामी के पक्ष में भी जन प्रतिनिधि आए और क्रेशर तथा खनन को अवैध घोषित करने वालों के विरुद्ध ही जांच करने की मांग कर दी। एसडीएम के समक्ष दोनों ने अपना-अपना पक्ष रखा है। उपजिलाधिकारी देवानंद शर्मा ने बताया कि उन्होंने भूमि का निरीक्षण तथा क्रेशर और खनन पट्टेधारी से प्रपत्र मांग लिये हैं और इनका विरोध करने वालों से भी पक्ष
मांगा है।

इसकी रिपोर्ट शीघ्र ही जिलाधिकारी को दी जाएगी। अवैध खनन के आरोप और क्रेशर का विरोध करने वालों और पक्षधरों दोनों के पक्ष जानने के बाद एक जांच कमेटी बना दी गई है। जिसकी रिपोर्ट शीघ्र ही जिलाधिकारी को प्रस्तुत की जाएगी।

निरीक्षण के दौरान नगर पंचायत अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह, नगर पंचायत के प्रभारी अधिशासी अधिकारी एसपी भट्ट, प्रधान लक्ष्मण सिंह, नगर पालिका के पार्षद विक्रम सिंह रौतेला, रमेश चंद्र, दिनेश लाल आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आपस में भिड़े शिकायतकर्ता व क्रशर संचालक