class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पड़ोसियों ने कक्षा नौ के छात्र को जिंदा जलाया

रामपुर थाना क्षेत्र के सेहरा गांव में पड़ोसियों ने जमीन के विवाद में कक्षा नौ के एक छात्र को मड़हे में बंद कर आग लगा दी जिससे वह गंभीर रूप से झुलस गया और अभी वाराणसी के एक अस्पताल में मौत से जूझ रहा है। उधर पुलिस का कहना है कि किशोर को किसी ने जलाया नहीं है बल्कि वह ढिबरी से लगी आग में झुलस गया।  
सेहरा गांव के भोला पटेल का अपने पड़ोसियों से जमीन का विवाद चल रहा है।

सोमवार की रात में भोला पटेल व उसका बेटा शिवशंकर पटेल (14) खाना खाने के बाद बगीचे में बने मड़हे में सोने चले गये। इसबीच पड़ोस के कुछ लोग आए और भोला को गांव में ही झाड़-फूंक करने के लिए अपने साथ ले गये। भोला की बहन धनरीसा का आरोप है कि भोला के जाने के बाद दुश्मनों ने उसके भतीजे शिवशंकर पटेल को मड़हे में टाटी लगाकर बंद कर दिया और उसमें आग लगा दी।

शिवशंकर की चीख सुनकर तथा आग की लपटें देख गांव के लोग मौके पर पहुंचे और किसी तरह आग बुझाकर शिवशंकर को बाहर निकाला। लेकिन इस दौरान वह गंभीर रूप से झुलस चुका था। शिवशंकर राम निरंजन इंटर कालेज सधीरनगंज का कक्षा नौ का  छात्र है। घर वालों ने उसे काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के सर सुन्दर लाल अस्पताल में भर्ती कराया जहां वह मौत से जूझ रहा है।

शिवशंकर की बुआ धनरीसा का कहना है कि पुलिस ने अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की है जबकि थाना प्रभारी हेमंत कुमार का कहना है कि किशोर को जलाया नहीं गया है, बल्कि ढिबरी से मड़हे में आग लगी और वह झुलस गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पड़ोसियों ने कक्षा नौ के छात्र को जिंदा जलाया