अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओएनजीसी ने एलएनजी संयंत्र में हिस्सेदारी ली

ओएनजीसी ने एलएनजी संयंत्र में हिस्सेदारी ली

तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) ने ईरान के एक बड़े गैस क्षेत्र तथा एलएनजी संयंत्र में हिस्सेदारी पाने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए। निगम को फारसी ब्लाक में दो साल पहले खोजे गैस भंडार के विकास का अधिकार भी मिल गया है।
   
ईरान के तेल उपमंत्री सैफुल्ला जाशंसेज ने बताया कि ओएनजीसी विदेश (ओवीएल) तथा हिंदुजा ग्रुप ने साउथ पर्स गैस क्षेत्र में 40 प्रतिशत हिस्सेदारी लेने के लिए समक्षौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

इसी तरह इन दोनों को पेट्रोनेट एलएनजी के साथ ईरान एलएनजी की उस परियोजना में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी दी जाएगी जो साउथ पर्स़ 12 (एसपी़12) की गैस को निर्यात के लिए एलएनजी में बदलेगी।
   
इसके बदले में भारत को ईरान एलएनजी द्वारा उत्पादित गैस का 60 प्रतिशत हिस्सा मिलेगा। जाशंसेज ने कहा कि फारसी ब्लाग में गैस क्षेत्रों की खोज में ओवीएल के अच्छे काम को ध्यान में रखते हुए ईरान ने इस क्षेत्र के विकास का अधिकार उसे देने का फैसला किया है। ओवीएल फरजाद बी गैस क्षेत्र के विकास के लिए इंडियन आयल तथा आयल इंडिया के साथ मिलकर 5.5 अरब डालर का निवेश करेगी।

ओएनजीसी के अध्यक्ष आर एस शर्मा ने कहा कि एसपी 12 की हिस्सेदारी के ओवीएल व हिंदुजा ग्रुप में बंटवारे का फैसला नहीं किया गया है जबकि हिंदुजा ग्रुप के सह अध्यक्ष जीपी हिंदुजा ने कहा कि बंटवारा समान होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ओएनजीसी ने एलएनजी संयंत्र में हिस्सेदारी ली