class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोल्ट का दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने के वादे से इंकार

बोल्ट का दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने के वादे से इंकार

दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी की घोषणा से एकदम उलट ओलंपिक में तीन स्वर्ण जीतने वाले उसैन बोल्ट ने इस बात से इंकार किया है कि उन्होंने अगले साल दिल्ली में होने जा रहे खेलों में भाग लेने का वादा किया है।

राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति को झटका देते हुए बोल्ट के मैनेजर रिकी सिम्स ने कहा कि विश्व चैंपियन जमैका के बोल्ट ने दिल्ली खेलों में भाग लेने का अभी तक किसी प्रकार का वादा नहीं किया है और इस बारे में अगले साल ही विचार करेंगे।

सिम्स ने एक खेल वेबसाइट कहा कि मैंने बोल्ट के कोच ग्लेन माइल्स से बात की है। उसने भी पुष्टि की है कि राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने के बारे में कोई भी फैसला मई-जून, 2010 से पहले नहीं किया जाएगा।

कलमाड़ी ने पोर्ट ऑफ स्पेन में राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों की बैठक में दावा किया था कि विश्व रिकॉर्डधारी बोल्ट 3 से 14 अक्टूबर तक होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेंगे।

दुनिया के सबसे तेज दौड़ने वाले धावक बोल्ट मांसपेशियों में खिंचाव के कारण मेलबर्न के 2006 राष्ट्रमंडल खेलों में भाग नहीं ले सके थे। दिल्ली राष्ट्रमंडल में भाग लेने के बारे में पूछने पर बोल्ट ने कहा कि उसने यह सब अपने कोच पर छोड़ रखा है।

बोल्ट ने कहा कि मैं कह नहीं सकता कि दिल्ली खेलों में भाग लूंगा या नहीं, आपको यह सवाल मेरे कोच से पूछना चाहिए। वही मेरे बारे में फैसला करता है कि मुझे क्या करना है।

खेल मंत्रालय और राष्ट्रमंडल खेल महासंघ दोनों से दिल्ली राष्ट्रमंडल खेल सफल बनाने का दबाव झेल रहे कलमाड़ी काफी समय पहले से कहते आ रहे हैं कि बोल्ट दिल्ली खेलों में मौजूद रहेगा।

भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष कलमाडी ने एक ऐसे प्रायोजक की तलाश भी शुरू दी है जो इस स्टार खिलाड़ी के भारत में ठहरने आदि का खर्च उठा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बोल्ट का राष्ट्रमंडल खेलों में खेलने के वादे से इंकार