class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमिताभ से मिलने के ख्वाहिशमंद हैं बिहार के 'ऑरो'

अमिताभ से मिलने के ख्वाहिशमंद हैं बिहार के 'ऑरो'

बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चान की फिल्म 'पा' अभी प्रदर्शित नहीं हुई है, लेकिन उसमें प्रोजेरिया बीमारी से पीड़ित 'ऑरो' प्रसिद्घ हो गया है। इसी बीमारी से पीड़ित बिहार के दो 'ऑरो' अमिताभ से मिलने के इच्छुक हैं।

छपरा जिले से करीब 20 किलोमीटर दूर मांझी प्रखंड के डुमरी गांव निवासी शमशुद्दीन और रजिया सुल्तान के दो बेटे रामूल और अली हसन प्रोजेरिया बीमारी से पीड़ित हैं। 22 वर्षीय रामूल और 11 वर्षीय अली हसन आम लोगों की तरह बातचीत करते हैं, घूमते हैं, खेलते हैं और नाचते भी हैं परंतु उनका मानसिक और शारीरिक विकास नहीं हो पाया है।

रजिया बताती हैं कि उनके आठ बच्चों थे, लेकिन तीन बच्चों की मौत प्रोजेरिया बीमारी से ही हो चुकी है। उन्होंने कहा कि इस समय उनके दो बच्चों में प्रोजेरिया बीमारी है।

रजिया ने बताया कि सभी को डेढ़ वर्ष की उम्र के बाद प्रोजेरिया बीमारी हुई और 22 से 25 वर्ष की उम्र में उनकी मौत हो गई। उन्हें अब रामूल को लेकर भी भय सता रहा है, क्योंकि उसकी उम्र भी 22 वर्ष हो चुकी है। उन्होंने बताया कि ये दोनों भी डेढ़ वर्ष की उम्र तक स्वस्थ थे, परंतु उसके बाद उन्हें यह बीमारी हो गई।

दोनों का इलाज कोलकाता में चल रहा है। वहां के डॉक्टरों ने इसे प्रोजेरिया बीमारी बताते हुए इसे लाइलाज बता दिया है। वह कहती हैं कि तंगहाली में पेट भरना दूभर है तो दवा और इलाज की बात कौन करे परंतु किसी तरह दवा चल रही है। उनके अन्य बच्चों पूरी तरह स्वस्थ हैं। शमशुद्दीन कोलकाता में किसी निजी कंपनी में चौकीदार का काम करते हैं।

प्रोजेरिया से ग्रस्त रसूल और अली हसन को जब इस बीमारी को लेकर फिल्म बनने की बात बताई गई तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। रसूल और अली हसन ने कहा कि उनको भी फिल्म देखने में मजा आता है। उनके पसंदीदा अभिनेता अमिताभ बच्चान और आमिर खान हैं। वे अब अमिताभ बच्चान से मिलने की ख्वाहिश भी रखते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमिताभ से मिलने के ख्वाहिशमंद हैं बिहार के 'ऑरो'