DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घायल विजेंदर प्रेसीडेंट कप से बाहर

घायल विजेंदर प्रेसीडेंट कप से बाहर

कलाई की चोट के कारण बाहर हुए ओलंपिक कांस्य पदक विजेता विजेंदर सिंह की गैर मौजूदगी में अजरबैजान में छह दिसंबर से शुरू हो रहे प्रेसीडेंट कप मुक्केबाजी टूर्नामेंट में एशियाई चैम्पियन सुरंजय सिंह भारतीय चुनौती की अगुवाई करेंगे। दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी विजेंदर (75 किलो) ने पिछले साल ओलंपिक चैम्पियन बख्तियार अर्तेयेव को हराकर इस टूर्नामेंट में कांस्य पदक जीता था।
     
विजेंदर ने कहा कि मुझे पटियाला में अभ्यास शिविर के दौरान चोट लगी थी। यह मामूली चोट है लेकिन ठीक होने में समय लगेगा। उन्होंने कहा कि मैने पिछली बार प्रेसीडेंट कप में पदक जीता था। निश्चित तौर पर इसमें नहीं खेल पाना निराशाजनक है लेकिन मैं फिटनेस को लेकर कोई जोखिम नहीं उठा सकता जबकि राष्ट्रमंडल खेल कुछ महीने बाद ही होने हैं। विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले पहले भारतीय विजेंदर को पूरी तरह ठीक होने में दस दिन लगेंगे।

भारतीय मुक्केबाजी टीम के डाक्टर करणजीत सिंह ने कहा कि विजेंदर 70 से 80 प्रतिशत तक फिट हो गया है। पूरी तरह फिट होने में उसे दस दिन और लगेंगे। ओलंपियन दिनेश कुमार (81 किलो) भी हाथ की चोट के कारण बाहर हैं।

सुरंजय के अलावा पूर्व युवा विश्व चैम्पियन और एशियाई चैम्पियनशिप रजत पदक विजेता टी ननाओ सिंह (48 किलो) भी अंतर उपमहाद्वीपीय टूर्नामेंट में एशिया के लिये खेलेंगे। संतोष सिंह (54 किलो) भी खेल सकते हैं क्योंकि भारतीय मुक्केबाजी महासंघ को उनके नाम पर एशियाई मुक्केबाजी परिसंघ से मंजूरी मिलने का इंतजार है।

भारतीय कोच गुरबख्श सिंह संधू ने कहा कि विजेंदर का टीम में होना अच्छा रहता लेकिन उसकी फिटनेस भी अहम है। बाकी मुक्केबाज भी प्रतिभाशाली हैं और हमें अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। टूर्नामेंट में एशिया, अमेरिका और यूरोप की दो-दो टीमें जबकि अफ्रीका और ओशियाना की एक-एक टीम भाग लेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घायल विजेंदर प्रेसीडेंट कप से बाहर