अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीसीएस प्री के दो दिन बाद मेंस होने के कारण बढ़ी परेशानी

प्रकरण एक: रविवार की रात राजापुर में रहने वाले रमेश कुमार की तबीयत अचानक बिगड़ गई। सिर में तेज दर्द, बुखार और सुस्ती। बिस्तर पकड़ना पड़ा। रमेश प्रतियोगी छात्र हैं। 2008 की पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण की है और सोलह दिसंबर से शुरू होने वाली मुख्य परीक्षा में शामिल होना है।

इसबीच 13 दिसंबर को आयोजित पीसीएस प्री-2009 के लिए भी कॉल लेटर आ गया है। महज दो दिन के अंतर पर होने वाली इन दोनों परीक्षाओं की तैयारी का बोझ बढ़ गया है। दिन हो या रात ज्यादा वक्त किताबों के बीच कटता है। इस अनियमित दिनचर्या और परीक्षा का भूत ही रमेश की बीमारी की मुख्य वजह है।

प्रकरण दो: हालैंड हॉल छात्रवास में रहने वाले हरिमोहन त्रिपाठी की स्थिति तो और भी खराब है। इन्हें दिसंबर माह में तीन परीक्षाओं में शामिल होना है। 12 को पीसीएस प्री-2009 परीक्षा देनी है, 16 को पीसीएस-2008 मेंस और इसी दौरान इविवि विधि की भी परीक्षा में शामिल होना है। भोर होते ही त्रिपाठी किताब और कॉपी में उलझ जाते हैं और देर रात में नींद आने तक किताब उनकी नजरों के सामने रहती है।

परीक्षा के भूत के शिकार होने वाले अकेले रमेश और हरिमोहन भर नहीं हैं। विवि के हॉस्टलों, डेलीगेसी और किराए पर कमरा लेकर रहने वाले कई प्रतियोगी छात्रों के साथ इन दिनों कुछ ऐसा ही गुजर रहा है। दोनों परीक्षाओं में गैप काफी कम होने के कारण ज्यादातर का तनाव बढ़ा हुआ है। 13 को पीसीएस प्री-2009 में इस बार एक लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं।

परीक्षार्थी इसलिए बढ़े हैं क्योंकि कहा जा रहा है कि इस बार पदों की संख्या अधिक है। पीसीएस-प्री के ठीक दो दिन बाद परीक्षार्थियों को पीसीएस मेंस-2008 में बैठना है। 16 को हिंदी/ निबंधन तथा 17 को सामान्य अध्ययन प्रथम और द्वितीय का परचा है। यह दोनों पेपर कॉमन हैं, जिसमें सभी उत्तीर्ण परीक्षार्थियों को शामिल होना है।

18 दिसंबर के वैकल्पिक विषयों की परीक्षा शुरू होगी, जो तीन जनवरी तक चलेगी। हरिमोहन त्रिपाठी के हॉस्टल में 200 छात्र हैं, इनमें से तीन ऐसे हैं, जो पीसीएस प्री-2009 और पीसीएस मेंस-2008 दोनों की परीक्षा देंगे जबकि सिर्फ पीसीएस प्री देने वालों की संख्या 55 है। ऐसा ही हाल सभी हॉस्टलों का है। हरिमोहन कहते हैं-हॉस्टल हो या डेलीगेसी इस समय पारा काफी चढ़ा हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परीक्षा के ‘भूत’ ने कर दिया बीमार
दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
भारत188/4(20.0)
vs
दक्षिण अफ्रीका189/4(18.4)
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकटों से हराया
Wed, 21 Feb 2018 09:30 PM IST
दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
भारत188/4(20.0)
vs
दक्षिण अफ्रीका189/4(18.4)
दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 6 विकटों से हराया
Wed, 21 Feb 2018 09:30 PM IST
तीसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय
दक्षिण अफ्रीका
vs
भारत
न्यूलैन्ड्स, केपटाउन
Sat, 24 Feb 2018 09:30 PM IST