class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत समग्र वार्ता बहाल करने में गंभीर नहीं: गिलानी

भारत समग्र वार्ता बहाल करने में गंभीर नहीं: गिलानी

पाकिस्तान ने एक बार फिर भारत को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा है कि भारत पाकिस्तान के साथ समग्र वार्ता प्रक्रिया को बहाल करने के प्रति गंभीर नहीं है, जिससे दोनों देशों के बीच संबंधों को सामान्य बनाने के पाकिस्तानी प्रयासों में बाधा उत्पन्न हुई है।

`द डॉन' की एक रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी ने सोमवार को जर्मनी के विदेश मंत्री गुइडो वेस्टरवेले के साथ यहां एक बैठक के दौरान कहा कि भारत समग्र वार्ता प्रक्रिया को बहाल करने के बारे में गंभीर नहीं है।

उन्होंने कहा कि भारत वार्ता प्रक्रिया बाधित कर रहा है और यूरोपीय संघ को भारत को वार्ता की मेज पर लाने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए, ताकि दोनों देशों के बीच कश्मीर के महत्वपूर्ण मुद्दे समेत तमाम मसलों को हल किया जा सके।

गिलानी ने कहा कि दक्षिण एशिया में शांति और स्थिरता के लिए दोनों देशों के बीच संबंधों में सुधार आना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि वार्ता प्रक्रिया को बहाल करने में भारत को रूचि दिखानी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने हाल ही में भी भारत पर समग्र वार्ता प्रक्रिया बहाल करने के लिए पर्याप्त प्रयास नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा था कि संभवतः घरेलू राजनीतिक मजबूरियों और इस मुद्दे पर आम सहमित नहीं बनने के कारण भारत सरकार इसमें रुचि नहीं ले रही है।

प्रधानमंत्री जर्मनी के दो दिवसीय दौरे पर सोमवार को पहुंचे थे। पाकिस्तान और जर्मनी के बीच रक्षा, अर्थव्यवस्था और शिक्षा के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के लिए एक नया द्विपक्षीय निवेश संधि होने की उम्मीद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत समग्र वार्ता बहाल करने में गंभीर नहीं: गिलानी