DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भगवान इंद्र भी पिचकारी भर कर बैठे हैं।

इष्ट-मित्र, पड़ोसी और रिश्तेदारों के साथ-साथ इस बार भगवान इंद्र भी पिचकारी भर कर बैठे हैं। इस बार वह छोड़ने के मूड में भी नहीं दिख रहे हैं। इसकी झलक उन्होंने सोमवार की शाम दिखा भी दी है। भारत मौसम विभाग के मॉडल इस ओर संकेत भी कर रहे हैं। उनके अनुसार दस और 11 मार्च को राज्य के विभिन्न इलाकों में बारिश हो सकती है। कहीं-कहीं यह दस मिलीमीटर तक होने की उम्मीद है। भारत मौसम विभाग नयी दिल्ली के वरिष्ठ वैज्ञानिक अशोक कुमार बखला के अनुसार कश्मीर और गुजरात के बीच गहरा ट्रफ बना हुआ है। यह झारखंड, पूर्वी उत्तरप्रदेश और आसपास के क्षेत्रों से गुजर रहा है।ड्ढr यह ऊपरी और निचली वायुमंडल में बना हुआ है। नीचे से अधिक सपोर्ट नहीं मिल रहा है। सपोर्ट मिलने पर अधिक बारिश हो सकती थी। राजधानी सहित विभिन्न इलाकों में शाम में ट्रफ की वजह से ही बारिश हुई।ड्ढr दोपहर बाद ही आकाश में बादल छाने लगे थे। तीन बजे के बाद बारिश होने लगी। इससे कई दिनों की गर्मी और उमस झेल रहे लोगों को राहत मिली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भगवान इंद्र भी पिचकारी भर कर बैठे हैं।