अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा है कि कांगडा जिला के डा0 राजेन्द्र प्रसाद मेडिकल कालेज के प्रथम वर्ष के छात्र की हत्या के मामले में दोषी पाए जाने वाले छात्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने आज यहां कि मामले की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिए गए हैं।मामले की जांच में दोषी पाए जाने वाले आरोपी सीनियर छात्रों को बख्शा नहीं जाएगा। ग्यातव्य है कि गुडगांव के रहने वाले एमबीबीएस के प्रथम वर्ष के छात्र अमन काचरू की रैगिंग के दौरान मौत हो गई।वरिष्ठ छात्रों ने उसकी रैगिंग की और इससे परेशान होकर उसने वरिष्ठ छात्रों का विरोध किया।बताते हैं कि उन्होंने उसे कथित रूप से बुरी तरह मारा जिसमें उसकी जान चली गई। इस घटना में होस्टल वार्डन तथा मैनेजर को निलंबित कर दिया गया तथा प्रिंसिपल ने पद से इस्तीफा दे दिया है।अमन ने रैगिंग को लेकर कुछ छात्रों के खिलाफ लिखित शिकायत की थी लेकिन इस बात को गंभीरता से नहीं लिया जाना ही उसकी मौत का कारण बना। इस घटना से अन्य छात्रों के माता पिता सदमे में हैं।कालेज प्रशासन के रवैए से खफो अमन के परिवार वाले उनके बेटे की मौत के लिए प्रशासन को जिम्मेदार मानते हैं।उन्हें कालेज प्रशासन ने बिलकुल सहयोग नहीं दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन