DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहर में डूबे मासूमों की तलाश में जुटा पुलिस प्रशासन


सिंभावली में हुए वारदात का खौफ आज भी पुलिस प्रशासन पर छाया हुआ हैं। दुर्घटना के बाद नहर में गिरी जीप में सवार दो मासूम बच्चों को तलाश करने में गाजियाबाद, मेरठ समेत बाढ नियंत्रण दस्ता भी जुटा हुआ था। इतना ही नहीं आईजी जोन मेरठ ने गंगनहर का बीस किलोमीटर के पानी का भाव कम कराने के सिचाई विभाग को निर्देश दिए जिससे शनिवार को पानी का भाव कम रहा।

दरअसल मेरठ कांग्रेस के उपाध्यक्ष मासूम असगर समेत कई मुस्लिम रुसूख वाले लोगों ने परिजनों को साथ लेकर डीआईजी जावेद अख्तर से शिकायत की कि पुलिस मासूम अब्बास व शमाना को तलाश करने के लिए कोई प्रयास नहीं कर रही है।

जिससे गाजियाबाद पुलिस हरकत में आ गई और एसपी देहात एम.एम.बेग समेत पुलिस क्षेत्रधिकारी कपिल देव सिंह, अरविन्द्र सिंह मुरादनगर मय फोर्स के कांवड़ मार्ग पर पहुंचे और एसएसपी के निर्देश पर मासूमों की तलाश मे गाजियाबाद के हिडंन, ब्रजघाट, मेरठ के गोतोखोरों व बाढ नियत्रण (पीएसी) दस्ते को लगाया गया। वहीं परिजनो का कहना है कि यदि पुलिस घटना के बाद से ही प्रयास करना शुरू कर देती तो शायद अब दोनों बच्चों का पता चल जाता।

सीओ कपिल देव सिंह का कहना है कि पुलिस रात से ही साघन एकत्र कर रही है। पीएसी को लेने के लिए शासन से स्वीकृती लेनी होती हैं। हालांकि शाम तक भी बच्चों नहीं मिल सके थे लेकिन अधिकारियों काफी परेशान नजर आ रहे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहर में डूबे मासूमों की तलाश में जुटा पुलिस प्रशासन