DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला अस्पताल में जच्च व बच्चों की सुरक्षा में खामी

जिला महिला अस्पताल में जच्च व बच्चों की सुरक्षा राम भरोसे हैं। विजीटिंग समय में महिला वार्ड में प्रवेश करने के लिए किसी प्रकार का कोई पास नहीं जारी किया जाता। जिसके कारण नवजात शिशुओं व उनकी मां से कौन मिलने जा रहा है इसका कोई अतापता नहीं होता। सुरक्षा की इस खामी की पुष्टि गुरूवार को लेबर रूम से बच्चा चोरी का घटना करती है। इतना ही नहीं अस्पताल में बच्चा बदलने व गैलरी में ही डिलीवरी होने के मामले में कई बार आरोप लग चुके हैं। बावजूद इसमे व्यवस्था सुधार करने की कोई योजना नहीं बनाई गई है।

गुरूवार को शिब्बनपुरा निवासी कामनी खन्ना का नवजात शिशु लेबर रूम से गायब हो गया। अभी तक बच्चों व उसको लेजाने वाली महिला का कोई अप्तापता नहीं चल सका है। आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन अब महिला को यहां से डिस्चार्ज करने की तैयारी में जुटा है। इतना ही नहीं इस मामले में महिला अस्पताल का काई भी कर्मचारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

महिला अस्पताल इस प्रकार के विवादों में कई बार आया है। करीब एक साल पहले राहुल विहार में रहने वाली एक महिला ने बच्चा बदलने का आरोप लगाया था। लंबे विवाद के बाद मामला सुलझा। साल के शुरू में एक पागल महिला के बेटे को लेने के लिए भी अस्पताल में कई कर्मचारियों के बीच विवाद हो चुका है। इस बच्चों को कई महिला कर्मचारी लेना चाहती थी। इतना ही नहीं डिलीवरी में लापरवाही के तो लगातार आरोप यहां लगते ही रहते हैं। कई बार तो दर्द होने के बावजूद डाक्टर महिलाओं का चेकप नहीं करती। जिसके कारण गैलरी में ही डिलीवरी की घटना हो चुकी है। 

इन घटनाओं के बावजूद भी जिला महिला अस्पताल में जच्च व बच्चों की सुरक्षा के कोई पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए हैं। यहां पर दोपहर 12 से 2 व शाम 6 बजे से 8 बजे तक कई बी महिला वार्ड में प्रवेश कर सकता है। मां बनने वाले महिला से मिलने के लिए उनके परिजनों को किसी प्रकार का कोई पास जारी नहीं किया जा सकता। इस समय कोई भी वार्ड में प्रवेश कर सकता है। खास बात तो यह है कि यदि कोई किसी का बच्चा लेकर वार्ड से बाहर भी आ जाय को कोई पूछने वाला नहीं है।

इस संबंध में महिला अस्पताल की कोई भी डाक्टर कुछ बोलने को तैयार नहीं है। सीएमएम इस महत्वपूर्ण घटना के बावजूद दो दिन की छुट्टी पर चली गई हैं। दूसरी ओर सूत्रों का कहना है कि जिस महिला का बच्चा गायब हुआ है उसको यहां से डिस्चार्ज करने की फाइल तैयार कर ली गई है। कबी भी महिला व उसके परिजनों को अस्पताल के बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महिला अस्पताल में जच्च व बच्चों की सुरक्षा में खामी