DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब गन्ना किसानों की राज्य सरकार को घेरने की तैयारी

अब गन्ना किसानों की राज्य सरकार को घेरने की तैयारी

केन्द्र सरकार पर गन्ना मूल्य को लेकर दबाव बनाने के बाद अब प्रदेश के गन्ना किसान राज्य सरकार पर राज्य परामार्शित मूल्य में बढ़ोत्तरी का दबाव बनाने के लिए लखनऊ में सरकार को घेरने की तैयारी कर रहे हैं।

राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के संयोजक वीएम सिंह का मानना है कि जब राज्य सरकार चीनी मिलों के लिए गन्ना क्षेत्रफल आवंटित करती है, तो गन्ना मूल्य दिलाना भी उन्हीं का दायित्व है और इसके लिए प्रदेश के गन्ना किसान आगामी 15-16 दिसंबर को गन्ना आयुक्त कार्यालय का घेराव करेंगे।

सिंह ने कहा कि जब गन्ने का मूल्य राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किया जा रहा है तो इसमें केन्द्र सरकार का कोई लेना देना नहीं होता है। उन्होंने कहा कि हमारी मांग गन्ना मूल्य 280 रुपये प्रति कुंतल से अधिक लेने की है, जो आज भी कायम है, जिसके लिए हम किसी भी हद तक जा सकते हैं।

गन्ना एसोसिएशन के अध्यक्ष अवधेश मिश्र ने बातचीत में बताया कि वह भी 15 दिसंबर को एसएपी बढ़ाने की मांग को लेकर लखनऊ में धरना प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की मांग है कि गन्ना मूल्य 280 से 285 रुपये प्रति कुंतल तय किया जाए और इससे कम कीमत पर वह गन्ना चीनी मिलों को देने को तैयार नहीं हैं।

मिश्र ने दावा किया कि इस समय प्रदेश में गन्ने की आपूर्ति न होने के कारण एक भी चीनी मिल पेराई नही कर रही है। उधर, उप्र शुगर मिल्स एसोसिएशन के सचिव केएन शुक्ला ने बातचीत में कहा कि चीनी मिलें राज्य सरकार द्वारा घोषित मूल्य पर 15 रुपये प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि देने को तैयार है, परन्तु इसके बावजूद किसान गन्ना आपूर्ति नहीं कर रहे हैं, जिससे चीनी मिलों का पेराई सत्र शुरू नही हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि यदि यह गतिरोध शीघ्र खत्म नही हुआ तो इसका सीधा असर चीनी उत्पादन पर पड़ेगा।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने 160 से 170 के बीच एसएपी तय की है, जबकि किसान इसे बढ़ाकर 280 रुपये करने की मांग कर रहे हैं, हालांकि चीनी मिलों ने 15 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से प्रोत्साहन देने की भी घोषणा कर रखी है, लेकिन किसान इस पर चीनी मिलों को गन्ना आपूर्ति करने पर राजी नहीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब गन्ना किसानों की राज्य सरकार को घेरने की तैयारी