DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रामदासिया सिखों को एससी में शामिल करो

राज्य में निवास करने वाले रामदासिया सिक्ख समुदाय को अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग मुखर हो रही है। शुक्रवार  को बड़ी संख्या में यहां पहुंचे सिख समुदाय के लोगों ने तल्तीताल डांठ में प्रदर्शन किया। बाद में एटीआई में कमिश्नर एस राजू से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। सभा में वक्ताओं ने कहा कि दिल्ली, पंजाब सहित पांच राज्यों में रामदासिया सिक्ख अनुसूचित जाति में शामिल किए गए हैं। लेकिन उत्तराखंड में सरकारें इस मांग पर उदासीन बनी हुई हैं।

वक्ताओं ने कहा कि इस समुदाय के अधिकांश परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे हैं। अनुसूचित जाति में शामिल करने से निचले तबके की कल्याणकारी योजनाओं को लाभ मिल सकेगा। प्रदर्शन में जसपुर  के अलावा सितारगंज सहित तराई के अन्य क्षेत्रों से रामदासिया सिक्ख पहुंचे थे। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे पूर्व मंत्री सुरेश चंद्र आर्य ने कहा कि न्याय संगत मांग को लेकर राय सिक्खों का साथ दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि शासन पर इसके लिए दबाव बनाया जाएगा।उधर कमिश्नर को ज्ञापन सौंपने के साथ ही सरोपा व तलवार  भी भेंट की गई।  कमिश्नर श्री राजू ने उनकी मांग को प्रबल संस्तुति के साथ शासन को भेजने का आश्वासन दिया। प्रदर्शन में रामदासिया सिक्ख सेवा समिति के अध्यक्ष बाबा हरनाम सिंह, गज्जन सिंह, गुरजीत सिंह फौजी, अतर सिंह कटारिया, दिनेश सांगुड़ी, सुखदेव सिंह प्रीतम सिंह, प्रकाश कौर, वेअंत कौर, इन्द्रजीत कौर, ज्ञान कौर आदि शामिल हुए।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रामदासिया सिखों को एससी में शामिल करो