DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब पक्षियों के लिए भी आधुनिक हॉस्पिटल

मेडिकल हब में एक और अस्पताल का नाम जुड़ गया है। लेकिन, यह अस्पातल दूसरों से कुछ अलग है। इसमें पक्षियों का इलाज किया जाता है। अस्पताल में ऑउट और इन डोर  चिकित्सा सुविधा उपलब्ध है। पक्षियों के लिए नि:शुक्ल इलाज की सुविधा उपलब्ध हैं। इसके लिए पांच डॉक्टरों का पैनल बनाया गया है। ओपीडी सुबह 9 से 6 बजे तक चलती है। वर्तमान में 65 पक्षियों को अस्पताल में रखा गया है।

साइबर सिटी के पक्षी प्रेमियों के लिए खुशखबरी का समाचार है। अब उन्हें अपने पालतू पक्षी के इलाज के लिए कहीं भटकना नहीं पड़ेगा। उपचार की सुविधा इमरजेंसी में घर भी उपलब्ध हो जाएगी। अस्पताल में कबूतर, बजरी, गौरेया, तोता या कौआ सहित सभी पक्षियों के इलाज की सुविधा उपलब्ध है। जैकमपुरा स्थित बर्ल्ड अस्पताल के संचालक नरेश जैन ने बताया कि अभी तक ये सुविधा मात्र दिल्ली में ही उपलब्ध थी।

शहर में पक्षियों के इलाज की सुविधा होने से लोगों को भटकना नहीं पडेगा। लोगों की समस्याओं को ध्यान में रखकर हॉस्पिटल का शुभारंभ किया गया है। इसमें पांच डाक्टरों की टीम को बर्ड की जांच 9 से 6 बजे तक प्रतिदिन करती है। आवश्यकता पड़ने पर इमरजेंसी सेवा की सुविधा प्रदान की जा रही है। अस्पताल में बर्ड के स्वास्थ्य की जांच के साथ मौसम में क्या-क्या सावधानिया बरतें इसकी जानकारी डाक्टरों से ली जाती है।

डॉक्टरों के पैनल में डॉ. एसपी गौतम, सत्य दुआ, शमशेर सिंह, डॉक्टर ग्रोवर और डाक्टर आजाद व अन्य शामिल है। एसबीआई में डिप्टी मैनेजर पद पर कार्यरत नरेश ने बताया कि इसमें पक्षियों के लिए निशुक्ल जांच की सुविधा रखी गई है। यहां पर पक्षियों को एडमिट कराने और पूरे उपचार की सुविधा उपलब्ध है। इसमें पालतू ही नहीं कोई भी बीमार पक्षी का इलाज किया जाएगा। इसमें 56 कबूतर, 2 तोता और चार बजरी शामिल हैं।

जैन ने बताया कि अस्पात का संचालन देवेन्द्र कुमार, जिनेन्दर,राजीव जैन, अनिल, धमेंद्र कुमार, मनोज और मुकेश सहित दस लोगों की ओर से संचालित किया जा रहा है। अस्पताल के जगह भी पट्टे पर ली गई है। उन्होंने बताया कि यहां पर आने वाले दिनों में वे सभी सुविधाए मुहैया कराई जाएगी ताकि पक्षियों का इलाज बेहतर ढंग से किया जा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब पक्षियों के लिए भी आधुनिक हॉस्पिटल