DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन सीमा के करीब यातायात सुविधाएं बढ़ाने पर विचार

भारत चीन सीमा के निकट चीन द्वारा अपनी गतिविधियां बढ़ाने के मद्देनजर सरकार उन क्षेत्रों में यातायात सुविधाएं बढ़ाने पर विचार कर रही है।

राज्यसभा में शुक्रवार को रेल राज्य मंत्री ई अहमद ने शान्ता कुमार के प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारत-चीन सीमा पर अरुणाचल प्रदेश को हरमूती (असम) से जोड़ने वाली नई रेल लाइन का कार्य प्रगति पर है। यह रेल लाइन 160.48 करोड़ रुपये की लागत से 1996-97 में स्वीकत की गई थी।

अहमद ने बताया कि अरुणाचल प्रदेश के परशुराम कुंडा को असम के रुपई से जोड़ने के लिए सर्वेक्षण किया गया है। उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक परियोजना के अंतर्गत काजीगुंड से बारामूला तक नई रेल लाइन चालू कर दी गई है। उधमपुर से काजीगुंड तक नई लाइन का कार्य प्रगति पर है।

अहमद ने महेन्द्र मोहन के प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि नेपाल में नए रेल संपर्क संबंधी प्रस्तावों के लिए प्रारंभिक इंजीनियरी और यातायात सर्वेक्षण तथा भूटान में व्यवहार्यता अध्ययन मैसर्स राइटस ने किया है।

उन्होंने गिरीश कुमार सांगी के प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि कश्मीर घाटी में चेनाब पुल पर ढ़ाल लगाने के मामले में विचार करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया गया था जिसने पुल का काम पुन: चालू करने के पहले फील्ड संबंधी जांच और अध्ययन करने की सिफारिश की थी।

उन्होंने बताया कि अपेक्षित परीक्षण किए जा चुके हैं और रिपोर्टों का अध्ययन जारी है। अहमद ने बताया कि मेगा आर्च पुल के स्थान पर 100 करोड़ रुपये की लागत वाले गर्डर पुल के निर्माण का कोई प्रस्ताव नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चीन सीमा के करीब यातायात सुविधाएं बढ़ाने पर विचार