DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेल की खदान में माओवादियों ने किया विस्फोट

सेल की खदान में माओवादियों ने किया विस्फोट

माओवादियों ने मेघातपुर खदान में बम विस्फोट किया जबकि एक अन्य बम किरिबुर खदान में लगा दिया। उड़ीसा-झारखंड सीमा पर स्थित दोनों खदानों का संचालन सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी सेल करती है।
   
यह हमला झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले में माओवादियों द्वारा पटरियों को उड़ाए जाने के कुछ घंटों बाद किया गया। इस घटना में टाटा बिलासपुर पैसेंजर ट्रेन पटरी से उतर गई थी, जिसमें दो यात्रियों की मौत हो गई थी।

किरिबुर में एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सशस्त्र माओवादियों ने मेघातपुर खदान पर धावा बोल दिया और एक बम विस्फोट किया। इसमें कन्वेयर बेल्ट क्षतिग्रस्त हो गई। परिणामस्वरूप मेघातपुर खदान में लौह अयस्क को लादने और उतारने का काम बुरी तरह प्रभावित हुआ है।
   
सूत्रों ने बताया कि दूसरी घटना में उग्रवादियों ने मेघातपुर से करीब 15 किलोमीटर और राउरकेला से करीब 120 किलोमीटर दूर किरिबुर खदान में कन्वेयर बेल्ट में बम लगा दिया। लेकिन यह नहीं फटा। पुलिस और सीआरपीएफ जवानों ने बम को निष्क्रिय कर दिया। इसमें किसी के हताहत होने का समाचार नहीं है।

हालांकि अन्य खदानों में खनन गतिविधियां प्रभावित नहीं हुईं हैं और समूचे खनन क्षेत्र में माओवादियों के शुक्रवार को बंद के मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। उड़ीसा पुलिस ने झारखंड सीमा से लगे सभी प्रवेश और निकास मार्गों को सील कर दिया है और माओवादियों के प्रभाव वाले सुदंरगढ़ जिले में 24 घंटे गश्त लगाई जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सेल की खदान में माओवादियों ने किया विस्फोट