DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फल पट्टी से बाहरी लोग होंगे बेदखल

मसूरी-चम्बा फल पट्टी के मामले में गुरुवार को हुई उच्च स्तरीय बैठक में विवादित 118 पट्टों को निरस्त करने की कार्रवाई शुरू करने को कहा गया। बाहरी लोगों के कब्जे वाले पट्टे निरस्त कर दिए जाएंगे। स्थानीय लोगों के विवादित पट्टे भी निरस्त होंगे पर प्रक्रिया के तहत पुन: उन्हीं पात्र लोगों को दे दिया जाएगा।

उद्यान मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा गुरुवार को विधानसभा में बुलाई गई बैठक में कई फैसले लिए गए। फल पट्टी के कुल 470 प्लॉट में से फरवरी 2009 में 118 विवादित पट्टों को निरस्त कर दिया गया था। जांच में पाया गया था कि अधिकार न होते हुए भी कुछ पट्टे बेच कर उनका गैर उपयोग किया जा रहा था। ब्लू डहलिया को बटवालधार (धनोल्टी) उद्यान लीज पर देने का मामला भी बैठक में उठा।

यह जानकारी सामने आई कि फर्म ने निर्धारित शर्तो का उल्लंघन कर भूमि का प्रयोग व्यापारिक कार्यो के लिए किया।मंत्री ने पूरे मामले का परीक्षण करने के निर्देश दिए है। बैठक में प्रमुख सचिव उद्यान अजय जोशी, प्रमुख सचिव सुभाष कुमार, उद्यान सचिव विनोद फोनिया, कमिश्नर गढ़वाल उमाकांत पंवार, डीएम टिहरी सचिन कुर्वे समेत दजर्नों अफसर व स्थानीय लोग मौजूद थे।

फरवरी के आदेश पर नहीं हुई कार्रवाईराज्य सरकार के फरवरी में इन पट्टों को निरस्त करने का आदेश दिया था लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। गुरुवार की बैठक में किसी के पास इस बात का जवाब नहीं था कि, इस आदेश पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फल पट्टी से बाहरी लोग होंगे बेदखल