DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर मंजिल का अलग होगा पानी-सीवर कनेक्शन

शहर में इमारत की हर मंजिल का पानी-सीवर कनेक्शन अलग होगा। एक मुश्त 12 हजार रुपये तक लोगों को हर फ्लोर के अदा करने होंगे। फ्लोरवाइज रजिस्ट्री खुलने के बाद नगर निगम यह नियम लागू करने जा रहा है।

फिलहाल निगम रिकार्ड में करीब सवा दो लाख यूनिट यानी इनती इमारत हैं। सभी के कनेक्शन अलग हैं। फ्लोर-वाइज रजिस्ट्री खुलने पर पानी-सीवर कनेक्शन के लिहाज से यूनिटों में इजाफा होगा। जिस इमारत में फ्लोर रजिस्ट्री हो रही है। उसका मालिक बदलेगा। लोगों की तादाद ज्यादा हो जाएगी। पानी-सीवर का इस्तेमाल बढ़ जाएगा। जिसकी सर्विस वसूलने को निगम अधिकृत है। सेक्टर व कालोनियों में निगम को कनेक्शन बढ़ने की उम्मीद है। इस महीने के आखिरी सप्ताह के लिए प्रस्तावित निगम सदन की बैठक में प्रस्ताव पारित करवाकर इसे लागू कर दिया जाएगा। इससे निगम को काफी राजस्व मिलने की उम्मीद है।


सरकार की जारी अधिसूचना में 180 वर्ग गज या फिर इससे ज्यादा क्षेत्रफल में बने मकान की फ्लोर रजिस्ट्री वाजिब है। 180 वर्गगज से छोटे क्षेत्रफल में बने मकान की फ्लोर की रजिस्ट्री नहीं होगी। जिले की तहसीलों में फ्लोर रजिस्ट्री काफी हो रही हैं। महीने में 50 से 100 के बीच इनकी संख्या है। कालोनियों में खरीद फरोख्त का ज्यादा जोर है। बहरहाल, बिल्डिंग के नियमों में बदलाव कर निगम इसको जलद अमली जामा पहना देगा।

इस प्रस्ताव के बारे में नगर निगम के सचिव प्रताप सिंह का कहना है कि निगम के सदन में यह प्रस्ताव लाया जाएगा। पारित होने के बाद इसे लागू किया जाएगा। वैसे सदन में इसका रेट फिक्स होगा। निगम एक कनेक्शन पर एक मुश्त 12 हजार रुपये फीस वसूलने का प्रस्ताव रख सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हर मंजिल का अलग होगा पानी-सीवर कनेक्शन