DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोड़ा के ‘करीबी’ डिडवानियां बंधुओं के यहां आयकर छापे

आयकर विभाग की टीम ने शहर के बड़े कारोबारी रविन्द्रपुरी निवासी डिडवानियां बंधु के यहां छापा मारा। जांच में अफसरों को अरबों की अघोषित संपत्ति का पता चला है। ओमप्रकाश, राजकुमार एवं शिवशंकर डिडवानियां तीनों सगे भाई हैं। लोहा, स्क्रैप और कोयला के कारोबार के साथ बिल्डर के रूप में उभरे डिडवानिया बंधुओं के संबंध मधु कोड़ा से भी बताए जाते हैं।

सूत्रों का कहना है कि झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा से संपर्क की पुख्ता जानकारी के बाद ही टीम ने डिडवानियां बंधुओं के डेढ़ दजर्न से अधिक स्थानों पर आवासों व प्रतिष्ठानों पर एक साथ छापेमारी की। नगर के विभिन्न इलाकों में देर रात तक चले एक साथ 18 स्थानों पर चले छापेमारी और सर्वे के दौरान अरबों रुपये की अघोषित सम्पत्ति का पता चला। इस दौरान आवास या प्रतिष्ठान में हर किसी के आने-जाने पर रोक लगा दी गई थी। इस दौरान अंदर के लोग कैद होकर रह गए।

छापेमारी के लिए झारखंड, मेरठ, आगरा, लखनऊ, इलाहाबाद, गोरखपुर, वाराणसी समेत अन्य जिलों के आयकर अफसरों की टीम बुधवार की शाम वाराणसी पहुंच चुकी थी। गुरुवार की अलसुबह भारी फोर्स के साथ डिडवानिया बंधुओं के आवासों, संचालित काम्प्लेक्सों, निर्माणाधीन रिहायशी फ्लैटों एवं कुबेर काम्प्लेक्स स्थित वीएस फाइनेंस लिमिटेड के कार्यालय पर छापेमारी व सर्वे का काम शुरू किया। जांच टीम ने डिडवानियां बंधुओं के आवासों एवं कार्यालयों को सीज करते हुए जांच की।

अफसरों के लाख प्रयास के बावजूद कुबेर स्थित कार्यालय नहीं खोला गया। यहां नेतृत्व कर रहे मेरठ के उपनिदेशक (जांच) श्री राम सिंह ने सिक्योरिटी इंचार्ज समेत दो गवाहों के बयान लिए। हालांकि देर शाम तक यह जानकारी नहीं हो पायी कि दफ्तर के अंदर क्या-क्या महत्वपूर्ण कागजात हैं। कार्रवाई के दौरान बड़े पैमाने पर एफडी, आभूषण, शेयर, जमीन के कागजात, नगदी, सभी प्रमुख राष्ट्रीयकृत बैंकों के खाते, बैंक लॉकर से जुड़े कागजात, कुछ प्राइवेट बैंकों के खाते आदि अफसरों के हाथ लगे।

अफसरों ने कम्प्यूटरों के हार्डडिस्क को भी कब्जे में ले लिया। नेतृत्व कर रहे अपर संयुक्त आयुक्त (जांच) अभय ठाकुर ने बताया कि छापेमारी के दौरान बड़े पैमाने पर अघोषित सम्पत्तियां हाथ लगी है। फिलहाल कुछ बता पाना संभव नहीं है। जांच पूरी होने के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा कि बेनामी सम्पत्ति कितनी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोड़ा के ‘करीबी’ डिडवानियां बंधुओं के यहां आयकर छापे