DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खिलाड़ी मेरे साथ, बगावत की खबरें झूठी: ब्रासा

खिलाड़ी मेरे साथ, बगावत की खबरें झूठी: ब्रासा

भारतीय हाकी टीम के मुख्य कोच जोस ब्रासा ने अपने खिलाफ खिलाड़ियों की बगावत की खबरों को झूठी करार देते हुए गुरुवार को कहा कि खिलाड़ी उनके साथ है और उनके पद छोड़ने का सवाल ही पैदा नहीं होता।

ब्रासा ने पुणे में कहा, खिलाड़ियों की बगावत की सारी खबरें झूठी है। इसमें रत्तीभर भी सच्चाई नहीं है। खिलाड़ियों के मेरे साथ अच्छे ताल्लुकात हैं और मुझे यकीन है कि भारतीय हाकी के साथ नाता लंबा रहेगा।

मीडिया में इस तरह की खबरें हैं कि पूर्व कप्तान संदीप सिंह समेत भारतीय हाकी टीम के कुछ खिलाड़ी मुख्य कोच की कार्यप्रणाली और रवैये से नाराज हैं और उन्होंने हाकी इंडिया को इस बारे में पत्र भी लिखा है। हाकी इंडिया के प्रमुख एके मटटू विवाद का हल निकालने के लिए पुणे पहुंच चुके हैं जहां बालेवाड़ी में भारतीय खिलाड़ी इन दिनों शिविर में हिस्सा ले रहे हैं।

ब्रासा ने बताया कि वह मटटू से मिलने जा रहे हैं लेकिन यह भी कहा कि मीडिया में छपी खबरों का इससे कोई सरोकार नहीं है। यह पूछने पर कि क्या उन्होंने खिलाड़ियों से इस बारे में बात की है, उन्होंने कहा, मुझे किसी से बात करने की जरूरत नहीं है। मैं चौबीसों घंटे उनके साथ हूं और मुझे पता है कि वे मेरे बारे में क्या सोचते हैं।

स्पेन के इस कोच ने इस बात से इंकार किया कि खिलाड़ियों की कथित बगावत की खबरें आने के बाद हाकी इंडिया के किसी अधिकारी ने उनसे बात की है। उन्होंने कहा, मेरी किसी से कोई बात नहीं हुई है और ना ही किसी ने इस बारे में सफाई मांगी है।

इस बीच संदीप सिंह समेत कुछ खिलाड़ी भी गुरुवार को मट्टू से मुलाकात करने वाले हैं। उन्होंने बातचीत के एजेंडे के बारे में बताने से इंकार कर दिया। पहले साइ की धीमी कार्यप्रणाली की आलोचना करने वाले ब्रासा शिविर के दौरान खिलाड़ियों के खाने के बंदोबस्त से खुश नहीं हैं। इससे पहले भी पुणे में शिविर के दौरान भारतीय टीम को नाश्ते में चिवड़ा दिये जाने को लेकर काफी आलोचना हुई थी।

ब्रासा ने कहा, मैं कई बार मेनू को लेकर शिकायत कर चुका हूं लेकिन हालात जस के तस हैं। खिलाड़ियों को रोज एक सा खाना दिया जा रहा है। चिकन में हडि्डया ही नजर आती है। रोज-रोज एक जैसा चिकन परोसने का सबब समझ में नहीं आता।

उन्होंने कहा, मैंने खिलाड़ियों के लिए मैनू भी दे रखा है लेकिन उस पर अमल नहीं होता। मेरी समझ में नहीं आता कि हालात कब सुधरेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खिलाड़ी मेरे साथ, बगावत की खबरें झूठी: ब्रासा