DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय उपग्रह के उपयोग के लिए नासा का करार

भारतीय उपग्रह के उपयोग के लिए नासा का करार

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने भारतीय उपग्रह ओसेनसैट-2 के आंकड़ों के उपयोग के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के साथ करार किया है और वह इन आंकड़ों का उपयोग मौसम के पूर्वानुमान समेत विभिन्न अमेरिकी एजेंसियों की अनुसंधान गतिविधियों के लिए करेगी।

श्रीहरिकोटा के ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपक यान का उपयोग कर 23 सितंबर 2009 को प्रक्षेपित ओसनसैट-2 का डिजाइन ओसनसैट-1 के ओसीएम उपकरण के उपयोक्ताओं की सेवा धारावाहिता जारी रखने के लिए किया गया था।

इसरो के साथ करार से विभिन्न अमेरिकी एजेंसियां ओसनसैट-2 के आंकड़ों का उपयोग अनुसंधान, शिक्षा और मौसम पूर्वानुमान जैसी गतिविधियों के लिए किया जा सकेगा। इस संबंध में नासा के अर्थ साइंस डिविजन के निदेशक माइकल एच फ्रेलिच, ओसेनिक ऐंड ऐटमॉस्फेयरिक ऐड़ानिस्ट्रेशन के सैटेलाइट एवं इन्फॉर्मेशन साइंस की सहायक प्रशासक मेरी ई किच्जा और इसरो के स्पेस ऐप्लिकेशन सेंटर के निदेशक आरआर नवलगुंड ने आशय पत्र पर हस्ताक्षर किए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारतीय उपग्रह के उपयोग के लिए नासा का करार