DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तिब्बत की हिमानियों का संरक्षण करे चीनः दलाई लामा

तिब्बत की हिमानियों का संरक्षण करे चीनः दलाई लामा

निर्वासित तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा ने कहा है कि तिब्बत के पर्यावरण संकट का समाधान उसके राजनीतिक भविष्य से ज्यादा महत्वपूर्ण है, इसिलए चीन- तिब्बत की हिमानियों के संरक्षण की दिशा में कदम उठाए।

भूखमरी की समस्या के मुद्दे पर इटली के रोम में चल रहे वैश्विक सम्मेलन के दौरान दलाई लामा ने बताया कि 15 से 20 वर्ष के अंदर तिब्बत की हिमानियों और बर्फ से ढके पहाड़ों से निकलने वाली नदियों के सूखने का खतरा है। उन्होंने कहा कि चीन इस पर तिब्बती विशेषज्ञों के साथ मिलकर अध्ययन करे।

उन्होंने कहा कि इलाके के राजनीतिक समाधान में लंबा समय लग सकता है और उसका इंतजार भी किया जा सकता है, लेकिन वहां की पारिस्थितिकी को हर साल नुकसान पहुंच रहा है, जिसका गंभीर अध्ययन करके पर्यावरण संरक्षण के लिए योजना बनाया जाना बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है।

गौरतलब है कि क्विंघाई और तिब्बत के पठार से यांजी और मेकांग सिहत एशिया की कई प्रमुख नदियां निकलती हैं। तिब्बत के भविष्य को लेकर चीनी अधिकारियों और दलाई लामा के प्रतिनिधियों के बीच आठ दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन इस मामले में बहुत ही मामूली प्रगति हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तिब्बत की हिमानियों का संरक्षण करे चीनः दलाई लामा