DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

23 हजार स्कूलों की कुंडली बनेगी

प्रदेश के 23 हजार से अधिक सरकारी एवं सहायताप्राप्त स्कूल-कॉलेजों की कुंडली तैयार हो रही है। स्कूल-कॉलेजों से संबंधित 25 सूचनाओं के लिए विभाग सॉफ्टवेयर तैयार करा रहा है। नए सत्र में प्रदेश के किसी भी स्कूल-कॉलेज के बारे में एक ‘क्लिक’ से सूचनाएं हासिल की जा सकेंगी। शासन इन सूचनाओं को पब्लिक-डाक्यूमेंट के तौर पर जारी करेगा।

प्रदेश में ढाई महीने के दौरान 10 हजार स्कूलों की जांच-पड़ताल हो चुकी है। शेष बचे 13 हजार स्कूल-कॉलेजों के बारे में भी 25 बिंदुओं पर सूचनाएं एकत्र की जा रही हैं। 23 हजार से अधिक स्कूलों की इन सूचनाओं के लिए शिक्षा विभाग विशेष सॉफ्टवेयर तैयार करा रहा है।

इस साफ्टवेयर में स्कूल का नाम-स्थान, बच्चों की संख्या, ड्राप-आउट, महिला व पुरुष शिक्षकों की संख्या, पैरा टीचर्स की संख्या, बीमार व सरप्लस शिक्षक, शिक्षक कब से नियुक्त हैं, रोड हेड से स्कूल की दूरी, भवन की स्थिति (बिजली, पानी, शौचालय व खेल मैदान सहित), निकटतम के स्कूलों से दूरी, मिड डे मील का खर्च, डेली डायरी आदि का ब्योरा दर्ज होगा। इस कार्य को इसी वर्ष के आखिर तक पूरा कर लिया जाएगा।

इसके बाद प्रदेश के किसी भी स्कूल के बारे में एक क्लिक पर सभी सूचनाएं उपलब्ध होंगी। किसी भी नई सूचना को स्कूल अपने स्तर से अपडेट करेंगे या कराएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:23 हजार स्कूलों की कुंडली बनेगी