DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हमने अंडमान पर कभी दावा नहीं किया: श्रीलंका

श्रीलंका के विदेश मंत्री रोहिता बोगोलोगामा ने अंडमान द्वीप समूह पर अपने देश द्वारा किसी तरह का दावा किये जाने की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि उनका देश सिर्फ इस द्वीप समूह के नजदीक के समुद्र के अंदर स्थित तलछट पर अधिकार चाह रहा है।

बोगोलोगामा ने श्रीलंकाई संसद को बताया, चार नवंबर को सदन में एक सवाल के जवाब में मैंने यह कभी नहीं कहा कि हम अंडमान द्वीप समूह या भारत से जुड़े़ किसी भी द्वीप समूह पर दावा करने जा रहे हैं।

वह विपक्षी यूएनपी के वरिष्ठ नेता रवि करूणानायके के एक सवाल का जवाब दे रहे थे। करूणानायके ने समुद्री कानून पर संयुक्त राष्ट्र संधि के तहत समुद्री तलछट के अधिकार पर देश के दावे के बारे में सवाल पूछा था।

कांटिनेंटल शेल्फ की सीमा को लेकर संयुक्त राष्ट्र आयोग वैध महाद्वीपीय चट्टान की बाहरी सीमा के बारे में श्रीलंका के मामले पर फैसला करेगा। गौरतलब है कि 200 नॉटीकल मील के दायरे में अंड़मान के नजदीक के समुद्र के नीचे के कुछ क्षेत्र भी आ जाते हैं।

उन्होंने मंगलवार को सदन को बताया कि यह खासतौर पर बताया गया कि हमारी महाद्वीपीय चट्टान की सीमा उस हिस्से के नीचे स्थित है लेकिन इस संबंध में परमार्श प्रक्रिया जारी है और भारत के साथ पांच दौर की वार्ता हो चुकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हमने अंडमान पर कभी दावा नहीं किया: श्रीलंका