DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कछुआ चाल में है अस्पताल के अपग्रेडेशन का काम

सामान्य अस्पताल के अपग्रेडेशन का काम कछुआ गति से चल रहा है। अस्पताल बिल्डिंग के जीर्णोद्धार का काम शुरू हुए सवा महीना बीत चुका है। लेकिन, अभी प्रथम चरण के दौरान ओपीडी के पुर्ननिर्माण का काम 30 फीसदी तक ही हो सका है। नतीजतन, अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों को काफी परेशानियां ङोलनी पड़ रही हैं।

जिला सामान्य अस्पताल के अपग्रेडेशन का काम तीन चरणों में विभाजित किया गया है। इसके तहत शुरूआत में ओपीडी सहित गायनी डिपार्टमेंट का पुर्ननिर्माण किया जा रहा है। इसको तैयार करने की समय सीमा 15 दिसबंर तय की गई है। लेकिन, मात्र 27 दिन शेष हैं और अभी तक केवल 30 फीसदी काम ही हो सका है। उधर, अस्पताल में ओपीडी की शिफ्टिंग के दौरान भी मरीजों की तकलीफों को ध्यान में नहीं रखे जाने से उन्हें लगातार परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। हड्डी रोग ओपीडी पहली मंजिल पर शिफ्ट होने से जहां हड्डी रोगियों को सीढ़ियां चढ़ने में दिक्कत हो रही है। वहीं मेडिसन ओपीडी दूसरी मंजिल में जाने से गंभीर मरीजों को वहां पहुंचना मुश्किल हो रहा है। गांधी कॉलोनी निवासी प्रेम प्रकाश कहते हैं कि उनके पैर में चोट लगी है। हड्डी ओपीडी ऊपर शिफ्ट कर दी गई। लेकिन अस्पताल में स्ट्रेचर कहीं नजर नहीं आ रहे हैं। सीढ़ियां चढ़ने में तकलीफ हो रही है। पीएमओ डॉ. खजान सिंह के अनुसार कंपनी को सख्त निर्देश दे दिए गए हैं कि तय समय पर ही बिल्डिंग का काम पूरा किया जाए। उनके अनुसार दूसरे चरण का काम फरवरी पहले सप्ताह तक व तीसरे चरण यानी अस्पताल के अपग्रेडेशन का पूरा काम 31 मार्च, 2010 तक पूरा हो जाएगा। 

लेकिन, काम की यही स्पीड रही तो, तय समय सीमा तक अस्पताल का अपग्रेडेशन हो पाना संभव नहीं। उल्लेखनीय है कि जिला सामान्य अस्पताल के आधुनिक बनाने में 15 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कछुआ चाल में है अस्पताल के अपग्रेडेशन का काम