DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अकेले प्यार से ही नहीं चलती शादी की गाड़ी

अकेले प्यार से ही नहीं चलती शादी की गाड़ी

प्यार करने वाले भले ही इसे गंभीरता से ना ले लेकिन सच्चाई यही है कि शादी के बाद प्यार की परिभाषा बहुत हद तक बदल जाती है। जी हां, अकेले प्यार से ही नहीं चलती शादी की गाड़ी।

एक नए अध्ययन में पाया गया है कि महज दास्तान ए मोहब्बत ही नहीं है जिंदगी की हकीकत, बल्कि प्रेमी जोड़े की उम्र, उनके पिछले संबंध, उनकी सिगरेट पीने जैसी छोटी बड़ी आदतें और न जाने ऐसे ही और कितनी वजहें हैं जो प्रेमियों के संबंधों को दीर्धकालिक बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं।

शोधकर्ताओं ने 2500 शादीशुदा या छह वर्षों से ज्यादा समय से एक साथ रहने वाले जोड़े पर किए गए अपने शोध के परिणाम में पाया कि इनमें से करीब एक चौथाई जोड़ों के संबंधों में छह वर्ष के अंदर बिखराव आ गया। द डेली एक्सप्रेस ने खबर दी है कि अगर पति अपनी पत्नी से नौ वर्ष या उससे अधिक बड़ा है तो तलाक की संभावना दोगूनी बढ़ जाती है। जबकि पत्नी अगर पति की अपेक्षा बच्चों की अधिक चाहत रखती है तो भी अलगाव की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

अध्ययन में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि संबंधों को लेकर अलगाव में 16 फीसदी ऐसे लोग थे जिनके अभिभावकों का पहले तलाक हो चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अकेले प्यार से ही नहीं चलती शादी की गाड़ी