DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिव कपूर का एशियाई टूर कार्ड खतरे में

शिव कपूर का एशियाई टूर कार्ड खतरे में

भारत के प्रतिभाशाली गोल्फर शिव कपूर का यूरोपीय कार्ड तो किसी तरह बचा रह गया लेकिन उनको अब अगले सत्र में एशियाई टूर में खेलने के पूर्णकालिक अधिकार सुरक्षित रखने की चुनौती का सामना करना पड़ रहा है।
     
कपूर ने 2005 से एशियाई टूर में खेलना शुरू किया और तब से वह लगातार इसमें खेलते रहे हैं लेकिन इसमें अपना कार्ड बरकरार रखने के लिए उन्हें जानी वॉकर कंबोडियाई ओपन में बेहतरीन प्रदर्शन करना होगा।

कपूर ने कहा कि पेशेवर बनने के बाद मैंने अपना एशियाई टूर कार्ड बनाए रखा था और मैं चाहता हूं कि यह आगे भी बना रहे। मैं पिछले कुछ वर्ष से जीत नहीं पाया लेकिन अब लगता है कि मेरी जीत की अच्छी संभावनाएं हैं। 
     

दिल्ली का यह गोल्फर एशियाई टूर ऑर्डर ऑफ मेरिट में अभी 69वें नंबर पर है और उन्हें कार्ड बरकरार रखने के लिये शीर्ष 65 में जगह बनानी होगी। कंबोडियाई ओपन सत्र की अंतिम प्रतियोगिता है और इस तरह से कपूर के पास कार्ड बनाए रखने का यह अंतिम मौका होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिव कपूर का एशियाई टूर कार्ड खतरे में