DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क पर हेलीकाप्टर उतारने से लालू मुश्किल में पड़े

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के दौरे पर गए राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद द्वारा बिना अनुमति लिए राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक अगस्त 2007 को अपना हेलीकाप्टर उतारने के मामले में अभी भी लालू की मुश्किलें आसान नहीं हुई हैं।

मुजफ्फरपुर अनुमंडल दंडाधिकारी (पश्चिमी) टी.के. सिन्हा की अदालत द्वारा गत पांच सितंबर को इस मामले में वरिष्ठ अधिवक्ता सुधीर ओझा के परिवाद-पत्र को खारिज कर दिए जाने पर जिला सत्र न्यायधीश पी.के. झा ने सिन्हा के आदेश को मंगलवार को दरकिनार करते हुए उनसे इस मामले में फिर से संज्ञान लेते हुए इसकी विस्तत जांच कर आगे की कार्रवाई के लिए निर्देश जारी करने को कहा।

सिन्हा द्वारा ओक्षा के परिवाद-पत्र को खारिज कर देने के बाद उन्होंने गत 12 नवंबर को जिला न्यायधीश प्रभात कुमार की अदालत में इस मामले में एक पुनर्विचार याचिका दायर की थी। ओझा ने लालू पर एक अगस्त वर्ष 2007 को बाढ़ निरीक्षण के दौरान लोगों की जान को खतरे में डालते हुए बिना अनुमति लिए अपना हेलीकाप्टर मुजफ्फरपुर जिले के मनियारी पुलिस थाना अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 28 पर उतार दिए जाने को लेकर स्थानीय अदालत में एक परिवाद-पत्र दायर किया था। ओझा ने बताया कि अनुमंडल दंडाधिकारी की अदालत के इस फैसले के खिलाफ वे ऊपरी अदालत में अपील करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सड़क पर हेलीकाप्टर उतारने से लालू मुश्किल में पड़े