DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजमगढ़ में पत्नी की हत्या कर खुद को भी आग लगाई

गंभीरपुर थाना क्षेत्र के उबारपुर गांव में पारिवारिक कलह के चलते एक दलित युवक ने मंगलवार की भोर में अपनी पत्नी की गला रेतकर हत्या कर दी। इसके बाद आत्महत्या की नीयत से युवक ने अपने ऊपर भी मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा ली। उसकी चीख-पुकार सुनकर आस-पास के लोगों ने उसे बचाया। जिला अस्पताल में उसकी हालत गंभीर बनी हुई थी। घटना के बाद गांव में गंभीरपुर तथा देवगांव की पुलिस के साथ ही एसडीएम लालगंज पहुंच गये। विवाहिता के मायके वालों ने पति व ससुर के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज करायी।

मिली जानकारी के अनुसार, उबारपुर गांव निवासी श्यामलाल व उसके भाई परिवार समेत दिल्ली रहते हैं। घर पर केवल श्यामलाल का 25 वर्षीय पुत्र रामनाथ अपनी पत्नी पूनम के साथ रह रहा था,जो मजदूरी करता था। पूनम का मायका मेंहनगर थाना क्षेत्र के शहदेवईत गांव में है। छह माह पूर्व ही उसका विवाह रामनाथ के साथ हुआ था। बताया जाता है कि शादी के बाद से ही दोनों के बीच आये दिन झगड़ा होता रहता था।

सोमवार की रात पति-पत्नी के बीच काफी देर तक झगड़ा हुआ। हालांकि बाद में दोनों शांत हो गये और भोजन कर सो गये। मंगलवार की भोर में रामनाथ घर में रखा चाकू उठा लाया और सो रही पत्नी पूनम के ऊपर लगातार कई वार कर दिया। उसने पत्नी का गला रेत दिया, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी। इसके बाद खुद की इहलीला खत्म करने के लिए रामनाथ ने अपने ऊपर चाकू से वार करने के बाद मिट्टी का तेल छिड़का और आग लगा ली।

उसका शरीर जब जलने लगा तो वह चीखता हुआ घर के बाहर भागा। उसकी चीख-पुकार सुनकर आस-पास के लोग दौड़कर वहां आये और आग बुझायी। आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना के बाद मंगलवार की सुबह गंभीरपुर व देवगांव पुलिस के अलावा एसडीएम लालगंज अमरनाथ राय भी गांव में पहुंचे। पुलिस ने विवाहिता के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। उधर विवाहिता पूनम के मायके वाले दोपहर बाद गंभीरपुर थाने पर पहुंचे और पति तथा ससुर के खिलाफ दहेज हत्या की प्राथमिकी दर्ज करायी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पत्नी की हत्या कर खुद को भी आग लगाई