DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राहुल ने बदली राजनीतिक फिजा

उत्तर प्रदेश में इसी माह हुए लोकसभा और विधानसभा के उपचुनाव में कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी के कारण पार्टी को मिली सफलता के बाद अब राज्य में समाजवादी पार्टी, सपा, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) तथा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने पुराने एजेंडे पर आने को मजबूर हो गई हैं।
 
सपा ने भाजपा छोड़कर आए कल्याण सिंह से किनारा कर लिया है और पार्टी से अलग हो गए मुसलमानों को रिझाने की कोशिश शुरू कर दी है तो बसपा भी अपने दलित एजेंडे पर लौटती दिखाई दे रही है। भाजपा को दफन करने की कसम खाने वाले कल्याण सिंह ने दो दिन पहले हिन्दुत्व और भाजपा को मजबूत करने का इरादा जाहिर किया।
 
सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने यह सोच कर कल्याण सिंह का साथ लिया था कि पार्टी का यादव और मुस्लिम तथा कल्याण सिंह के लोध वोट का गठजोड़ राज्य की सत्ता पर काबिज हो सकेगा लेकिन अयोध्या में विवादित ढांचा गिराए जाने के कारण अपनी सरकार गंवा चुके कल्याण सिंह की सपा अध्यक्ष के साथ दोस्ती को मुसलमानों ने कबूल नहीं किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राहुल ने बदली राजनीतिक फिजा